भाजपा विधायक पहुंचे सीएम आवास, राज्यपाल से भी मिले, नीतीश करेंगे सरकार बनाने का दावा

राजनीति

अभी-अभी एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है सीएम नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद भाजपा विधायकों को सीएम आवास बुलाया गया है। सुशील मोदी के नेतृत्व में कई विधायक सीएम आवास पहुंच चुके हैं।

बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार भाजपा के साथ सरकार बनाने का दावा करेंगे। वो कभी भी राज्यपाल भवन जाकर सरकार बनाने का दावा कर सकते हैं। उधर विधान सभा मानसून सत्र को स्थगित कर दिया गया है।

इससे पहले गया था कि भाजपा विधायक राज्यपाल से मिलने राज्यपाल भवन जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि भाजपा ने नीतीश सरकार को अपना समर्थन दिया है। साथ ही कहा है कि भाजपा नीतीश के नेतृत्व में काम करेगी। नीतीश सरकार को बचाने के लिए हर संभव प्रयास करेगी।

बताते चले कि सीएम नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इसके बात से ही राजनीतिक जोड़ तोड़ शुरू हो गई है।
अब बिहार में क्या हो सकता है?

1. बीजेपी नीतीश की सरकार को बाहर से समर्थन देने की घोषणा कर सकती है। (यह सबसे बड़ी संभावना है, इसकी घोषणा आज देर रात या कल सुबह तक हो सकती है, बैठकें चल रही हैं)
2. राज्य हित में नीतीश बीजेपी के बाहरी समर्थन से सरकार चलाने पर सहमत हो सकते हैं, ताकि चेहरा भी बचा रहे और सरकार भी। (संभवतः नीतीश ने पहले ही यह फार्मूला बीजेपी को बता रखा है।)
3. राजद भी सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है। वह कांग्रेस, हम, और कुछ और विधायक के समर्थन का दावा कर सकती है। जदयू के भी कई विधायक बागी हो सकते हैं।(मगर उनके दावे पर राज्यपाल महोदय शायद विचार न करें।)
4. अगर बीजेपी के समर्थन के बाद राज्यपाल नीतीश को मौका देते हैं, तो इस बीच जमकर विधायकों की खरीद फरोख्त हो सकती है और लोकतंत्र का तमाशा बन सकता है।(यह बहुत मुमकिन है।)
5. मुमकिन है नीतीश विश्वासमत हासिल कर लें। और अगर नहीं कर पाएं तो राष्ट्रपति शासन की सिफारिश की जा सकती है।
6. वैसे टूट राजद और कांग्रेस में भी हो सकती है।
अब जो भी होगा, आने वाले कुछ दिन बिहार की राजनीति के लिये शुभ नहीं प्रतीत हो रहे।
पुनश्च- एक उड़ती अफवाह यह भी है कि बिहार में बीजेपी के नेतृत्व में जदयू के समर्थन से सरकार बनेगी और नीतीश केंद्र में महत्वपूर्ण पद संभालेंगे। हालांकि मुझे यह संभावना ठीक प्रतीत नहीं होती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.