रविवार को मुख्यमंत्री सचिवालय के संवाद कक्ष में पहुंचे बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के सह अध्यक्ष और ट्रस्टी बिल गेट्स की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद अगवानी की। मुख्यमंत्री ने उन्हें गुलदस्ता भेंट की, जिस पर श्री गेट्स ने उन्हें धन्यवाद दिया। सीएम के साथ वे कुछ देर पहले मुख्यमंत्री कक्ष में बैठे, जहां नीतीश कुमार ने गेट्स को याद दिलाया कि वे चार या पांच साल के बाद बिहार आए हैं। श्री गेट्स ने इस अंतराल के लिए ‘सॉरी’ कहा। 

इस दौरान मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार ने भी उन्हें पिछली यात्रा की याद दिलायी और कहा कि आप पिछली यात्रा में बांका, दानापुर और खगड़िया भी गये थे। बातचीत का सिलसिला आगे बढ़ा तो मुख्यमंत्री ने बताया कि बिहार में टीकाकरण 84 फीसदी तक पहुंच चुका है। इस पर बिल गेट्स ने कहा-यह बहुत अच्छा है। उसके बाद सभी मुख्यमंत्री सचिवालय स्थित संवाद के बैठक कक्ष में गये, जहां मुख्यमंत्री ने बिल गेट्स को अंगवस्त्र एवं प्रतीक चिह्न भेंटकर सम्मानित किया। बाद में बैठक में मौजूद सभी लोगों के साथ बिल गेट्स ने बिहारी व्यंजन ‘भूंजा’ का भी लुत्फ उठाया। 

बिहार की कामयाबी पर चर्चा 
बिल गेट्स की मौजूदगी में हुई बैठक के दौरान बिहार की कामयाबी पर खूब चर्चा हुई। बिहार ने विभिन्न क्षेत्रों में प्रभावशाली प्रगति की है। लोक स्वास्थ्य प्रबंधन कैडर  के निर्माण के माध्यम से राज्य की स्वास्थ्य प्रणाली में निर्णायक सुधार लाने हेतु राज्य सरकार प्रयासरत है, जो लोक स्वास्थ्य में अधिक प्रशासनिक और प्रबंधन क्षमता लाते हुए अच्छी गुणवत्ता वाली चिकित्सकीय देखभाल देने के लिए परिकल्पित है। इसके अलावा, पूरी तरह कार्यात्मक एकीकृत रेफरल परिवहन प्रणाली को प्राप्त करने के लिए लोक निजी भागीदारी के प्रयास, सरकारी स्वास्थ्य केन्द्रों पर मातृ और नवजात शिशु देखभाल में सुधार के लिए अमानत नर्स मेंटरिंग कार्यक्रमों का क्रियान्वयन, स्वास्थ्य प्रक्षेत्र में मानव संसाधन बढ़ाने की प्राथमिकता पर ध्यान केंद्रित करना बिहार सरकार के कुछ उल्लेखनीय प्रयास हैं। लगभग 9,00,000 स्वयं सहायता समूहों के स्तर में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। जीविका के माध्यम से स्वास्थ्य और विकास के प्रक्षेत्र में महिलाओं को शामिल करने की दिशा में प्रयास चल रहे हैं। राज्य में स्वयं सहायता समूह कृषि, जेंडर, पशुधन, मातृ, नवजात स्वास्थ्य, पोषण और परिवार नियोजन परिणामों को आगे बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में सेवा प्रदान कर रहे हैं। 

Sources:-Hindustan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here