पटना: लंबे अंतराल के बाद अब एक बार फिर बिहार का बेटा भारतीय क्रिकेट टीम में दिखेगा. पटना के इशान किशन को भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल कर लिया गया है. उनका चयन नेशनल टी-20 टीम में हुआ है. इंग्लैंड के खिलाफ 12 मार्च से शुरू होने वाली टी-20 सीरीज के लिए घोषित टीम में इशान किशन को बतौर विकेट कीपर शामिल किया गया है।

इशान ने खेली 173 रनों की धुआंधार पारी
पटना के इशान किशन झारखंड की टीम से खेलते हैं। विजय हजारे ट्रॉफी में इशान झारखंड के कप्तान हैं। वे बाएं हाथ के बल्लेबाज और विकेटकीपर हैं, गेंदबाजी भी करते हैं। झारखंड ने विजय हजारे ट्रॉफी में शनिवार को मध्य प्रदेश (MP) को 324 रन से हरा दिया। यह भारतीय घरेलू वनडे में किसी भी टीम की सबसे बड़ी जबकि दुनिया में लिस्ट A क्रिकेट में दूसरी सबसे बड़ी जीत है। इशान किशन के तूफानी शतक की बदौलत झारखंड ने 50 ओवर में नौ विकेट खोकर 422 रन बनाए। इशान ने 173 रन की धुआंधार पारी खेली। उन्होंने मात्र 94 गेंदों पर 19 चौकों और 11 छक्कों की मदद से यह रन बनाए। जवाब में मध्य प्रदेश की टीम 18.4 ओवर में 98 रन पर ही सिमट गई।

पटना से की क्रिकेट की शुरुआत
इशान ने क्रिकेट की शुरुआत पटना के मैदानों से की। उनके खेल को देखकर पहले से ही यह कयास लगाए जाने लगे थे कि इशान क्रिकेट में बहुत आगे तक जाएंगे। उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट की शुरुआत दिसंबर 2014 में 16 साल की उम्र में गुवाहाटी (रणजी) के खिलाफ की थी। इशान ने अब तक फर्स्ट क्लास के 44 मैच खेले हैं, जिनमें 75 पारियों में उन्होंने 2665 रन बनाए हैं। इनमें 5 शतक और 15 अर्धशतक शामिल हैं। अधिकतम स्कोर 273 रहा है। लिस्ट A के 73 मैचों में इशान ने 70 इनिंग में 2507 रन बनाए हैं। इन मैचों में इशान ने चार शतक और 12 अर्द्धशतक बनाए हैं। इनमें अधिकतम स्कोर 173 हो गया है जो उन्होंने शनिवार को मध्यप्रदेश के खिलाफ बनाए। इशान ने घरेलू T-20 के 95 मैचों में 2372 रन बनाए हैं। इनमें दो शतक और 12 अर्द्धशतक शामिल हैं। अधिकतम स्कोर नाबाद 113 रहा।

अंडर-19 टीम के कप्तान बने
22 दिसंबर 2015 में इशान को अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के लिए भारत का कप्तान बनाया गया था। इस विश्व कप में इशान का बल्ला भले ही खामोश रहा, लेकिन उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने फाइनल तक का सफर तय किया था। फाइनल में उसे वेस्टइंडीज के सामने हार का सामना करना पड़ा था। इस विश्व कप में ऋषभ पंत ने उनके साथ ओपनिंग बल्लेबाज की भूमिका निभाई थी। साल 2016 के अंत में इशान ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए रणजी के एक मैच में दिल्ली के खिलाफ 273 रन की पारी खेली, जो स्टेट के किसी भी खिलाड़ी का सर्वोच्च स्कोर था

IPL 2020 के सीजन 13 में 516 रन बनाकर चमके
वहीं, IPL 2020 के सीजन 13 में भी मुंबई ने इशान को शुरुआती मैच में खेलने का मौका नहीं दिया, लेकिन जब मुंबई ने उन्हें पहली बार RCB के खिलाफ प्लेइंग इलेवन में शामिल किया तब उन्होंने संकट के समय ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 58 गेंदों में 99 रनों की शानदार पारी खेली। हालांकि, उस मैच में सुपर ओवर में RCB को जीत मिली, लेकिन इशान ने अपनी जगह टीम में पक्की कर ली। पूरे सीजन में किशन ने 516 रन बनाए। वह मुंबई के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। IPL 2020 में इशान ने कुल 30 छक्के लगाए। इस लिस्ट में वह इस साल सबसे ऊपर रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here