बिहार की बेटी निकिता सिंह ने 11 साल में लिखा था पहला उपन्यास ,आज है देश की बेस्ट सेलर

बिहारी जुनून

पटना: निकीता ने अपनी पहली उपन्यास 19 वर्ष की उम्र में लिखी थी। निकीता लिखने पढ़ने की शौकीन थी पर वो मेडिकल स्टूडेंट थी। उन्होंने अपना स्नातक बी फार्मा में किया है।

लेकिन सबसे बड़ी बात की इस होनहार लड़की का जन्म पटना में ही हुआ था और इन्होंने कुछ सालों तक अपनी स्कूलिंग भी यहीं से की है। इसके बाद वो इंदौर चली गई। अपने ग्रेजुएशन के बाद इन्होंने दिल्ली के प्रकाशन में पब्लिशिंग का काम किया।

इसके बाद वो न्यूयॉर्क चली गई जहाँ द न्यू स्कूल से इन्होंने “क्रिएटिव राइटिंग” में अपना पीजी किया। इन्हें 2013 में इंडियाज़ यंग अचीवर्स अवार्ड से भी सम्मानित किया गया।

इनकी सबसे ज़्यादा चर्चित उपन्यास रही है, “इफ इट्स नॉट फॉरएवर”। इसके अलावा इन्होंने लव@फ़ेसबुक, राइट हियर राइट नाउ, एक्सीडेंटली इन लव.. विद हिम ? अगेन ?, द अनरीज़नेबल फेलोज़ और दुर्जोय दत्ता के साथ लिखी इनकी उपन्यास “समवन लाइक यू” जिसे पेंग्विन इंडिया ने प्रकाशित किया था वो काफ़ी चर्चित रहा था। इसके अलावा इन्होंने एवरी टाइम इट रेन्स, लाइक अ लव सॉन्ग, आफ़्टर ऑल दिस टाइम और द प्रॉमिस लिखी है।

साहित्य और खासकर अंग्रेजी साहित्य में रुचि रखने वाला शायद ही कोई निकीता सिंह को नहीं जानता हो। निकीता ने बहुत ही कम उम्र में बहुत सारे उपन्यास लिख दिये हैं। निकीता ने 26 वर्ष की उम्र में दस से भी ज़्यादा उपन्यास लिखे हैं।

निकीता सोशल मीडिया पर भी काफ़ी सक्रिय रहती हैं। अपनी खूबसूरती के चलते भी यह सोशल मीडिया पर काफ़ी चर्चित रहती हैं। इन्हें देखकर ब्यूटी विद ब्रेन कहना सार्थक हो जाता है। बिहार को अपनी इन बेटियों पर गर्व है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.