PATNA : बिहार के रोहतास जिले की बच्ची अंजली सुर्खियों में है। चर्चा की वजह स्वच्छता अभियान में जागरूकता के लिए बनाया गया एक ‘वीडियो सांग क्लिप’ है। सीएम नीतीश कुमार भी उसकी सराहना कर चुके हैं। आज यह ‘वीडियो सांग क्लिप’ बिहार के लोहिया स्वच्छता अभियान में एक महत्वपूर्ण कड़ी बनती जा रही है।

 

 

फिलहाल सूबे के 92 प्रखंडों में रोहतास की इस बेटी के वीडियो क्लिप को दिखाकर महिलाओं को जागरूक किया जा रहा है। स्वच्छता अभियान के प्रशिक्षण के लिए जिले में पहली बार आए 40 बीडीओ व दूसरी बार आए 52 बीडीओ द्वारा इस छात्रा के इस वीडियो क्लिप की काफी तारीफ की गई।  मिशन से जुड़े अधिकारियों की माने तो यहां से प्रशिक्षण प्राप्त कर गए बीडीओ अपने-अपने क्षेत्रों में अंजली के वीडियो सांग क्लिप को दिखाकर महिलाओं को जागरूक कर रहे हैं। एक मिनट दो सेकेंड के इस वीडियो सांग को रोहतास जिला प्रशासन व यूनिसेफ के सहयोग से बनाया गया है। 22 दिसंबर 2016 को जिले में आए सूबे के मुखिया नीतीश कुमार भी उदयपुर में छात्रा की इस सांग फिल्म को देख खुद को ताली बजाने से रोक नहीं पाए थे।

 

 

काफी रोचक है वीडियो सांग का थीम

सांग फिल्म का थीम काफी रोचक है। वीडियो सांग में नन्ही बिटिया अपने ससुर जी से साफ व बेहिचक शब्दों में कहती है कि गौना (द्विरागमन) तभी होगा, जब आप अपने घर में शौचालय बनवा देंगे। इसमें बच्ची ने शौचालय निर्माण को घर की खुशहाली से जोड़ कर जागरूक करने का प्रयास किया है।

 

अंजली संझौली के समहुता निवासी सुनील सिंह की बेटी है। यह गांव के मध्य विद्यालय में सातवीं की छात्रा है। प्रधानाध्यापक जनार्दन प्रसाद व शिक्षक हिरामन प्रसाद की मानें तो अंजली को अन्य जिले से भी मिशन अधिकारी अपने साथ ले जाने आते रहते हैं। वह यहां की महिलाओं को स्वच्छता के प्रति हमेशा जागरूक करती रहती है। दिलचस्प बात है कि वैवाहिक शैली से अनभिज्ञ अंजली ने यह गीत खुद तैयार किया है। अंजली की वीडियो सांग सीधे तौर पर महिलाओं को जागरूक करती है। नन्ही बच्ची का आग्रह महिलाओं व लड़कियों पर सकारात्मक प्रभाव डालता है। वे इससे प्रभावित होकर अपने परिजन पर शौचालय निर्माण के लिए जोर देती है। आज सूबे में कई जिलों में अंजली के वीडियो से महिलाओं को जागरूक किया जा रहा है।

 

इंद्रनील घोष, राज्य समन्वयक, यूनिसेफ (बिहार)

 

कहते हैं जिलाधिकारी

जिले के मिशन ओडीएफ में स्कूली बच्चियों का भी महत्वपूर्ण योगदान है। पायल बेच कर शौचालय बनाने वाली नोनहर की छात्रा पायल हो या फिर वीडियो सांग से जागरूक करने वाली अंजली। इससे महिलाओं को जागरूक करने में एक रास्ता मिला है। आज अंजली का वीडियो सांग से दूसरे जिले की महिलाएं व लड़कियां जागरूक हो रही हैं। रोहतास की बेटी मिशन को संबल प्रदान कर रही है, यह जिले के लिए गर्व की बात है।

अनिमेष कुमार पराशर, डीएम, रोहतास

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here