बिहार की बेटी और साइकिल गर्ल ज्योति को मिला ‘वीरता पुरस्कार’, आज पीएम मोदी करेंगे उनसे बात

बिहारी जुनून

Patna: इस साल ‘प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार’ के लिए 32 बच्चाें के नामाें की घाेषणा रविवार काे कर दी गई। इनमें “साइकिल गर्ल’ ज्योति कुमारी पासवान का भी नाम है। वे लॉकडाउन के दौरान पिता को साइकिल से हरियाणा के गुरुग्राम से दरभंगा तक ले गई थीं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गणतंत्र दिवस पर वीडियाे काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए ज्योति से बात भी करने वाले हैं। नवाचार, खेल-कूद, शैक्षणिक, कला अाैर संस्कृति, समाज सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय काम अाैर वीरता के लिए ये पुरस्कार हर साल दिए जाते हैं। इस बार 21 राज्याें/केंद्र शासित क्षेत्राें के बच्चे पुरस्कृत हुए हैं। इन सभी से प्रधानमंत्री साेमवार काे बात करेंगे। सबसे ज्यादा नाै बच्चाें काे नवाचार, सात-सात काे कला-संस्कृति, पांच काे बाैद्धिक, तीन काे वीरता अाैर एक काे समाज सेवा के लिए यह पुरस्कार दिया जा रहा है।

इधर, यह खबर सुनकर उसके गांव सिरहुल्ली ही नहीं, सम्पूर्ण मिथिलांचल में खुशी की लहर है। इस खबर से ज्योति के घर फिर एक बार उत्सवी माहौल है। ज्योति को तो मानो खुशी के पंख लग गए हैं। उसके परिवार के सारे सदस्य मां और पिता सहित सभी फूले नहीं समा रहे। जैसे ही उन्हें और परिवार को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार 2021 से सम्मानित होने और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से वर्चुअल संवाद की सूचना मिली, सभी खुशी से आत्मविभोर हो उठे हैं।

ज्योति ने बताया कि उसने श्रद्धा भाव से अपने बीमार पिता की सेवा की और उनकी जान बचाने को साइकिल से घर पहुंचने का निर्णय लिया। इसमें वह सफल भी हो गयी। उसे उसके सच्ची सेवा और साहसिक कर्म का ईनाम मिला है। उसने कहा कि बच्चों को अपने माता-पिता की सेवा श्रद्धा भाव से करनी चाहिए।

वहीं पिता मोहन पासवान की आंखों से खुशी के आंसू छलक पड़े। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी के सौभाग्य और उसकी पितृभक्ति के साथ ही उसके साहसिक निर्णय से ही उन्हें व उनके परिवार और ज्योति को देश में सम्मान मिला है। बेटी से ही उनकी किस्मत चमकी है। प्रधानमंत्री जी से बात करने का अवसर और सौभाग्य प्राप्त हुआ है। बेटी अगर त्याग नहीं करती, तो सपने में भी हमने नहीं सोचा था कि प्रधानमंत्री जी से बात कर पाते।

Source: Daily Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *