बिहार में लगेगा उद्योगों का जाल, नौकरी के लिए नहीं जाना होगा बाहर, 2,18,303 करोड़ का बजट पास

खबरें बिहार की

Patna: बिहार के डिप्टी CM सह वित्त मंत्री तार किशोर प्रसाद ने वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 2 लाख 18 हजार 303 करोड़ रुपए का अनुमानित बजट पेश किया है। सबसे अधिक बजट शिक्षा विभाग को दिया गया है। इसके बाद स्वास्थ्य, पंचायती राज व अन्य विभागों को बजट में हिस्सा मिला है। बजट में उद्योग लगाने की संभावना देख रहे लोग निराश हुए हैं। उद्यमिता विकास के लिए सरकार ने मात्र 200 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। महिला उद्यमिता के विकास के लिए भी 200 करोड़ रुपए दिए गए हैं। युवा उद्यमियों को 5 लाख रुपए तक का अनुदान और 5 लाख रुपए का अधिकतम ऋण एक प्रतिशत ब्याज पर मिलेगा।

प्रसाद ने इस वित्तीय वर्ष में बिहार सरकार की कुल आय 2 लाख 18 हजार 502 करोड़ रहने की बात कही है। राजकोषीय घाटा 3 फीसदी रहने का अनुमान जताया है। भास्कर ने पहले ही बता दिया था कि इस बार बजट का आकार पिछले साल के आसपास ही रहेगा। कोरोना महामारी के कारण राज्य की आर्थिक गतिविधियां प्रभावित हुई हैं। इसका असर भी दिखा। बिहार का इस बार का बजट पिछले वर्ष के मुकाबले 3.03 फीसदी ही बढ़ा।

बिहार बजट भाषण की मुख्य बातें :
पशुओं के लिए हर 8-10 पंचायत पर अस्पताल बनाया जाएगा। इनको टेलीमेडिसिन की भी सुविधा दी जाएगी। देशी गोवंश के लिए ‘गोवंश विकास संस्थान’ की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए 500 करोड़ का बजट दिया गया है।दिल में छेद वाले बाल मरीजों का मुफ्त इलाज कराएंगे। इस योजना के लिए 300 करोड़ का प्रावधान।किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सिंचाई की पर्याप्त व्यवस्था की गई। हर खेत में पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी।हर गांव में सोलर लाइट लगाई जाएगी। सभी गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट के लिए 150 करोड़ का बजट प्रावधान है।कृषि के लिए 550 करोड़ का प्रावधान।

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 200 करोड़ का प्रावधान।वाटर ड्रेनेज के लिए 150 करोड़ का प्रावधान।20 लाख से ज्यादा रोजगार के नए अवसर सृजित किये जाएंगे। 5 जिलों में फार्मेसी कॉलेज खोले जाएंगे।राज्य में एक और नए इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना की जाएगी।हर जिले में मेगा स्किल सेटर बना युवाओं के रोजगार के लिए मौके बढ़ाए जाएंगे।बिहार में मछलीपालन को इतना बढ़ाया जाएगा कि यहां की मछली दूसरे राज्यों में जाएगी।लाल बैग में बजट की प्रति लेकर विधानसभा पहुंचे थे वित्त मंत्री।लाल बैग में बजट की प्रति लेकर विधानसभा पहुंचे थे वित्त मंत्री।

बजट पर क्या बोले CM नीतीश कुमार
बजट पेश होने के बाद CM नीतीश कुमार ने कहा कि ‘हर घर नल से जल हो’ समेत सभी योजनाओं का ख्याल रखा जा रहा है। विकास के सभी काम समय पर शुरू होने के साथ ही तय समय पर खत्म भी हो, इस पर ध्यान रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है। CM ने बताया कि आत्मनिर्भर बिहार के तहत प्रदेश में रोजगार देने पर काम होगा। राजगीर में खेल यूनिवर्सिटी का निर्माण कराया जा रहा है, जिससे प्रदेश में खेल को बढ़ावा मिलेगा। वहीं, प्रश्नपत्र लीक मामले में पत्रकार के खिलाफ मुकदमा को लेकर उन्होंने बताया कि इसकी कोई जानकारी नहीं है। सभी अधिकारियों को सजग रहने की जरूरत है।

Source: Daily Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *