बिहार का एक ऐसा गांव जहां मौत के डर से नहीं बनाए जाते toilet , अक्षय ने कहा- तब तो यहां सब अमर होंगे

खबरें बिहार की
मौत का डर और toilet

बिहार के एक गांव में शौचालय बनाने से मौत हो जाती है। अक्षय कुमार को जब ये बताया गया कि इसी डर से पिछले 33 सालों से इस गांव में किसी ने शौचालय नहीं बनवाया है तो अक्षय कुमार ने इसका जवाब अपने अंदाज में दिया। यही नहीं ये सवाल Toilet Ek Prem Katha फिल्म की पूरी यूनिट को इंट्रेस्टिंग लगा।

फिल्म के अन्य कलाकार अनुपम खेर, भूमि और दिव्येंदु ने भी इस सवाल का जवाब दिया। जवाब आपकी आंखें खोलने वाली है।अक्षय ने कहा- अगर toilet बनाने से किसी की मौत हो जाती है तो इस गांव में 33 सालों में एक भी व्यक्ति मरा नहीं होगा। ये जवाब लोगों को पसंद आया। क्योंकि इन 33 सालों में इस गांव में मौत तो जरूर हुई होगी।

Toilet Ek Prem Katha फिल्म के प्रमोशन के दौरान बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार को बताया गया कि बिहार के उस गांव में 33 सालों से किसी ने अपने घर में शौचालय नहीं बनवाया है। जिसके बाद अक्षय ने ये जवाब दिया था।




वहीं फिल्म के दूसरे कलाकार अनुपम खेर ने कहा कि बहुत दिन से लोग बाथरूम नहीं गए होंगे। इसीलिए पेट फूलने से उनकी मौत हो गई होगी। फिल्म के एक अन्य कलाकार दिव्येंदु शर्मा ने इसका फनी जवाब देते हुए कहा कि जरूर मल्टीस्टोरेज बिल्डिंग में सब एक साथ बैठे होंगे जिसकी वजह से शौचालय गिर गया होगा और अब लोग डर के मारे गांव में बाथरूम बनवाते ही नहीं।

बता दें कि इस फिल्म में toilet नहीं होने की वजह से एक लड़की को खेतों में जाने के दौरान कई आपत्तिजनक स्थितियों का सामना करना पड़ता है जिसके बाद वो अपने ससुराल को छोड़ मायके लौट जाती है।




फिल्म में अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर मुख्य भूमिकाएं निभा रहे हैं। इस फिल्म के द्वारा समाज की समस्याओं को सामने लाने का काम किया गया है। अक्षय कुमार बताते हैं कि ये कहानी साढ़े 4 साल से बॉलीवुड में घूम रही थी। बड़े स्टारों ने इस फिल्म में काम करने से इंकार कर दिया था।

ऐसे में अक्षय को ये कहानी सुनाई गई तो उन्होंने बिना देर किए हुए नीरज पांडे से फिल्म में काम करने की इच्छा प्रकट की। जिसके बाद उन्हें ये फिल्म मिल गई। इस मौके पर अक्षय कुमार ने कहा कि उन्हें इस बात की जरा भी परवाह नहीं है कि ये फिल्म कितनी कमाई करती है। देश में अभी भी 54% लोगों के पास शौचालय नहीं है।




ऐसे में अगर इस फिल्म से लोगों को संदेश मिलता है और वो अपने घरों में शौचालय बनवाते हैं तो यही उनके लिए सबसे बड़ी खुशी की बात होगी। क्योंकि एक कलाकार और भारतीय होने के नाते देश के लोगों को जागरूक करना सभी का काम है।




toilet ek prem katha



Leave a Reply

Your email address will not be published.