बिहार के लाल के भरोसे गुजरात प्रशासन, मुख्य सचिव-डीजीपी पद पर ‘बिहारी’ अफसरों का कब्जा

जानकारी

पटना के सेंट जेवियर हाई स्कूल के दो छात्र आज गुजरात के प्रशासन व पुलिस विभाग के शीर्ष ओहदे पर हैं। डॉ. जेएन सिंह जुलाई 2016 से मुख्य सचिव हैं, वहीं आइपीएस अधिकारी शिवानंद झा पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) बनाए गए हैं। वह निवर्तमान डीजीपी प्रमोद कुमार का स्थान लेंगे। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी सरकार ने गुजरात काडर के 1983 बैच के आइपीएस शिवानंद झा को महानिदेशक एवं महानिरीक्षक के पद पर नियुक्त किया है। झा अभी तक इंटेलीजेंस ब्यूरो में महानिदेशक पद पर कार्यरत थे।



मधुबनी जिले के हैं दोनों शीर्ष अधिकारी :
सेंट जेवियर हाई स्कूल पटना में उनके सहपाठी डॉ. जेएन सिंह गुजरात काडर के आइएएस अधिकारी हैं। वह जुलाई 2016 से राज्य के मुख्य सचिव हैं। गुजरात का प्रशासन व पुलिस अब पूरी तरह बिहार के दो लाल के भरोसे है। मुख्य सचिव सिंह व आइपीएस झा मूल रूप से बिहार के मधुबनी जिले के रहने वाले हैं। अहमदाबाद महानगर पालिका के आयुक्त मुकेश कुमार और अहमदाबाद पुलिस आयुक्त एके सिंह भी बिहार के हैं। अब तक गुजरात के प्रशासन में दक्षिण भारतीय अफसरों का दबदबा था। लेकिन डॉ. सिंह के मुख्यसचिव बनने के बाद प्रशासन पर बिहार लॉबी का वर्चस्व हो गया है।

गुजरात दंगों पर एसआइटी में भी थे झा : आईपीएस झा को उच्चतम न्यायालय ने गुजरात दंगों के लिए गठित एसआइटी में भी शामिल किया था, अक्टूबर 2013 में अहमदाबाद का पुलिस आयुक्त नियुक्त किया गया था। इस पद पर उन्होंने लंबे समय तक कार्य किया। जनवरी 2016 में उनका नाम दिल्ली पुलिस आयुक्त के लिए भी चर्चा में था। गौरतलब है कि सरकार ने आइपीएस झा के रूप में तीन साल बाद स्थाई डीजीपी की नियुक्ति की है। इससे पहले पीसी ठाकुर के अचानक पद त्याग देने के बाद से सरकार कार्यकारी डीजीपी से काम चला रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *