बिहार में तुरंत मिलेगा वज्रपात का अलर्ट; सरकारी भवनों पर लगेंगे तड़ित चालक, ठनका से अब तक 161 लोगों की मौत

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में मॉनसूनी सीजन के बीच वज्रपात से अब तक 161 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ठनका से बचने के लिए सभी सरकारी इमारतों पर तड़ित चालक लगाने का फैसला लिया है। साथ ही बिहार राज्य आपदा प्रदंधन प्राधिकरण की ओर से जागरुकता अभियान चलाया जाएगा। इसके जरिए ग्रामीण इलाके के लोगों को आकाशीय बिजली से बचने के लिए जागरुक किया जाएगा। साथ ही वज्रपात की सूचना तुरंत लोगों के पास पहुंचेगी।

बिहार के सभी शहरी और ग्रामीण इलाकों के सरकारी भवनों पर जल्द तड़ित चालक लगेंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसे लगाने के लिए विशेष अभियान चलाने का निर्देश पदाधिकारियों को दिया है। उन्होंने कहा कि सभी सरकारी विद्यालय, पंचायत भवन, प्रखंड, अंचल, अनुमंडल कार्यालय सहित अन्य सरकारी भवनों पर तड़ित चालक लगाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें। साथ ही निजी भवनों पर तड़ित चालक लगाने के लिए अधिक से अधिक लोगों को प्रेरित करें।

मुख्यमंत्री ने राज्य में हो रही वज्रपात की घटनाओं पर शुक्रवार को उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की और पदाधिकारियों को कई निर्देश दिये। एक अणे मार्ग में हुई बैठक में वज्रपात के संभावित खतरों के प्रति लोगों को जागरूक करने एवं इससे होने वाली मौत की घटनाओं में कमी लाने पर गहन विचार-विमर्श किया गया।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निर्देश दिया कि ग्रामीण एवं शहरी इलाकों में निचले स्तर तक व्यापक रूप से निरंतर जागरूकता अभियान चलाते रहें। सभी जिलाधिकारी अपने-अपने जिलों में विशेष रूप से निगरानी रखें और अभियान चलाकर एहतियात के तौर पर लोगों को सचेत करें। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त परामर्शी मनीष कुमार वर्मा, आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव संजय कुमार अग्रवाल और मुख्यमंत्री के सचिव अनुपम कुमार उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.