बिहार में सूखे के बीच नीतीश सरकार की किसानों को राहत, डीजल अनुदान के लिए 60 करोड़ मंजूर

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में कम बारिश से उपजे सूखे के हालात के बीच किसानों को राहत देने के लिए नीतीश सरकार ने 60 करोड़ रुपये जारी किए हैं। किसानों को डीजल अनुदान देने के लिए इस राशि का इस्तेमाल किया जाएगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई राज्य कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। कुछएक जिलों को छोड़कर कमोबेश पूरा राज्य सूखे की मार झेल रहा है।

बिहार में इस मॉनसून सीजन बारिश कम होने से ये हालात उपजे हैं। ऐसे में धान और खरीफ फसलों की खेती करने वाले किसानों को आर्थिक नुकसान पड़ रहा है। पूरे राज्य में औसतन बारिश का आंकड़ा सामान्य से 35 फीसदी तक कम है। कई जिलों में नदियों और नहरों में पानी की कमी है। ऐसे में किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हाल ही में सूखा प्रभावित जिलों का हवाई सर्वेक्षण किया था। इसके बाद अधिकारियों को प्रभावित किसानों को राहत देने

निर्देश दिए। सूखे से निपटने के लिए मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में 60 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई। इससे किसानों को डीजल अनुदान दिया जाएगा।

बता दें कि किसानों को सिंचाई का पर्याप्त पानी नहीं मिलने से वे डीजल पंपों से फसलों की सिंचाई कर रहे हैं। यह तरीका बहुत महंगा है। ऐसे में नीतीश सरकार ने पिछले दिनों डीजल अनुदान देने की घोषणा की थी। राज्य में किसानों को डीजल पर 75 रुपये प्रति लीटर अनुदान दिया जा रहा है। अब तक लाखों किसान इसके लिए आवेदन कर चुके हैं। इनमें से कुछ किसानों के खाते में डीजल अनुदान की राशि पहुंच गई है। बाकी किसानों के खाते में भी जल्द पैसा पहुंचाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.