बिहार में पहली बार मिला बीए.12 वैरिएंट, ओमिक्रोन के बीए.2 वायरस से कई गुणा ज्‍यादा खतरनाक

खबरें बिहार की जानकारी

राजधानी पटना के इंदिरा गांधी इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंस (Indira Gandhi Institute of Medical Science) में कोरोना संक्रमितों के 13 सैंपल की जिनोम सिक्वेंसिंग में ओमिक्रोन के नए वैरिएंट (Omicron Variant) की पुष्टि हुई है। लगभग दो माह पूर्व के सैंपल की लैब में 10 दिन पहले जीनोम सिक्वेंसिंग की गई। इमसें 12 सैंपल में बीएन.2 वायरस मिला। जबकि, एक सैंपल में बीए.12 वायरस मिला है।

बुधवार देर रात आई रिपोर्ट 

संस्थान की माइक्रोबायोलाजी विभागाध्यक्ष डा. नम्रता कुमारी ने बताया कि सभी रिपोर्ट बुधवार की देर रात आई हैं। बीए.12 की संक्रमण दर बीए.2 से अधिक है। हालांकि, उन्होंने कहा कि नए वैरिएंट एक्सई और बीए.12 वैरिएंट को लेकर अधिक डाटा उपलब्ध नहीं है। कई देशों में बीए.12 पहले ही आ चुका है। बिहार में यह पहली बार मिला है। इस वैरिएंट को लेकर रिसर्च किया जा रहा है।

पटना एम्स में एक डाक्टर समेत दो कोरोना संक्रमित

पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS, Patna) में बुधवार को एक डाक्टर समेत दो कोरोना संक्रमित मिले। डाक्टर को दो दिन पहले सर्दी-खासी और हल्कं बुखार की शिकायत हुई। जांच में उनकी कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट पाजिटिव मिली। वह कुछ दिन पहले ही दूसरे शहर से पटना लौटे हैं। इसके अतिरिक्त एक स्टाफ नर्स की मां कोरोना संक्रमित पाई गई। सभी होम क्वारंटाइन हैं। दोनों में से किसी को कोरोना से खास परेशानी नहीं है। किसी को भर्ती कराने की जरूरत नहीं पड़ी है।

बिहार में एक बार फिर बढ़ने लगे हैं कोरोना के मामले

गौरतलब है कि एक बार फिर कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं। चौथी लहर की आशंका के मद्देनजर राज्‍य सरकार पूरी तरह अलर्ट हो गई है। किसी भी आपात स्थिति से निबटने के लिए अस्‍पतालों को तैयार कर दिया गया है।  बिहार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि अस्‍पतालों में पूरी व्‍यवस्‍था कर दी गई है। हम कोरोना के मुकाबले को तैयार हैं। बीते दिन पीएम नरेंद्र मोदी ने भी कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताई थी। उन्‍होंने टीकाकरण तेज करने पर बल दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.