बिहार में नेट बंद होने से तनाव में था बीटेक छात्र, एग्जाम नहीं दे पाया तो कर ली खुदकुशी

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के कैमूर जिले में एक बीटेक छात्र ने इंटरनेट बंद होने की वजह से तनाव में आकर आत्महत्या कर ली। दरअसल, छात्र के ऑनलाइन एग्जाम चल रहे थे लेकिन वह अचानक नेट बंद हो जाने की वजह से परीक्षा में शामिल नहीं हो पाया था। उसके बाद से ही वह परेशान था। मृतक की पहचान 22 वर्षीय हर्षित प्रियदर्शी के रूप में हुई है जो मूल रूप से दरभंगा जिला के जमालपुर थाना क्षेत्र के परसरमा गांव का निवासी था। वह माता-पिता व परिवार के अन्य सदस्य के साथ किराए के मकान में रह रहा था। वह चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में सेमेस्टर छह का परीक्षार्थी था। उसकी ऑनलाइन परीक्षा चल रही थी। पिता संजय सिंह न्यायालय के जीआर ऑफिस में पेशकार हैं

मृतक के पिता ने बताया कि नेट सेवा बंद रहने से बेटा परीक्षा नहीं दे पा रहा था, जिससे वह तनाव में चल रहा था। इसी तनाव के कारण उसने खुदकुशी कर ली। इसके अलावा दूसरा कोई कारण नहीं है। उन्होंने बताया कि वह छोटे बेटे को लेकर पटना गए थे। उसका पटना के कोचिंग सेंटर में एडमिशन कराना था।

पिता ने आगे बताया कि पटना से अहले सुबह में लौटे, तो हर्षित के कमरे का दरवाजा बंद था। मैंने सोचा सो रहा होगा। लेकिन, देर हुई तो आवाज लगाई। दरवाजा खटखटाया गया। लेकिन, अंदर से कोई गतिविधि का अहसास नहीं हुआ और न उसकी आवाज सुनाई पड़ी। सीढ़ी लगाकर रोशनदान से झांका तो देखा कि गले में रस्सी का फंदा लगाकर पंखे से झूला है। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को कमरे से बाहर निकाला।

सदर अस्पताल में आए मृतक के पिता ने बताया कि उन्होंने अपने बेटे को सलाह दी थी कि इंटरनेट सेवा बंद है तो चिंता मत करो। अगली बार परीक्षा दे देना। लेकिन, वह चिंता में डूबे रहता था। शायद उसे लग रहा होगा कि उसके साथी परीक्षा देकर आगे निकल जाएंगे और वह पिछड़ जाएगा। इसी कारण उसने ऐसा कदम उठाया होगा। हर्षित को उसकी मां प्रतिभा सिंह ने भी समझाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.