बिहार में कब्रिस्तान से हो रही शराब की तस्करी, माफिया ने बनाया था गोदाम, विरोध करने पर की मारपीट

खबरें बिहार की

बिहार में पूर्णत: शराबबंदी है लेकिन शराब की तस्करी करने वाले अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। आए दिन शराब की तस्करी करने के नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। इस बीच दरभंगा जिले से हैरान करने वाली खबर सामने आई है, जहां तस्करों ने कब्रिस्तान को भी नहीं छोड़ा।

जानकारी के अनुसार दरभंगा जिले के बेंता ओपी क्षेत्र के गंगासागर पोखर के पश्चिमी भिंडा स्थित कब्रिस्तान से शराब की तस्करी किये जाने का खुलासा हुआ है। शनिवार को इसे लेकर बवाल खड़ा हो गया। जब स्थानीय लोगों ने विरोध किया तो शराब माफिया उग्र हो गए। शराब माफियाओं ने विरोध कर रहे लोगों के साथ मारपीट भी की। उसके बाद स्थानीय लोगों ने बेंता ओपी की पुलिस को सूचना दी

 

जैसे ही पुलिस को सूचना देने की जानकारी शराब माफियाओं को मिली, उन्होंने बोरी में रखी शराब को गंगासागर पोखर में फेंकना शुरू कर दिया। सूचना पाकर लहेरियासराय थानाध्यक्ष एचएन सिंह व बेंता ओपी प्रभारी उमेश कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से पोखर से बोरे में रखी शराब बरामद कर ली। साथ ही कब्रिस्तान से भी शराब बरामद की। 

बताया जाता है कि लंबे समय से कब्रिस्तान में शराब रखी जा रही थी। जैसे ही स्थानीय लोगों को शराब की खेप उतरने की सूचना मिली, लोग शराब रखने की जगह पर पहुंच गए। लोगों ने शराब माफियाओं से कहा कि कब्रिस्तान से शराब हटा लो। इसी बात पर शराब माफिया उग्र हो गए और लोगों के साथ मारपीट शुरू कर दी। बेंता ओपी अध्यक्ष ने बताया कि कुल 294 लीटर नेपाली सोफिया शराब जब्त की गई है। शराब तस्करी का काम मनोज महतो, छोटू कुमार, गोपाल कुमार इत्यादि कर रहे थे। उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.