बिहार में इस योजना से स्टूडेंट्स को मिलेगा 4 लाख का ब्याज मुक्त कर्ज, ऐसे उठाएं स्कीम का लाभ

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार सरकार सूबे के बारहवीं पास बच्चों के लिए क्रेडिट कार्ड योजना चला रही है। इस योजना के तहत सूबे के आर्थिक रूप से कमजोर और अति पिछड़ा वर्ग के बच्चों को सरकार 4 लाख तक बिना ब्याज का कर्ज उपलब्ध करवाती है। योजना का लाभ लेने के लिए इनकम सर्टिफिकेट और कई मूल दस्तावेज जमा किये जाते हैं। योजना का उद्देश्य राज्य के 12 वीं पास बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करना है और आर्थिक रूप से समर्थन प्रदान करना है। बिहार सरकार की इस योजना का लाभ लेने के लिए उच्च शिक्षण संस्थान में रेगुलर मोड में एडमिशन की शर्त रखी गयी है। साथ ही कॉलेज से संबंधी दस्तावेज भी जमा किया जाता है।

इन्हें मिलेगा योजना का लाभ

बिहार सरकार की इस योजना का लाभ अति पिछड़ा और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को मिलेगा। छात्रों को चालू वित्तीय वर्ष का आय प्रमाण पत्र जमा करना होगा। आय प्रमाण पत्र के आधार पर छात्रों का चयन किया जाएगा। सरकार की इस योजना का मुख्य उद्देश्य बिहार के अति पिछड़ा और आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों की पैसे की कमी के चलते पढ़ाई बाधित न हो।

ऐसे करें आवेदन

बिहार सरकार की इस योजना का क्रियान्वयन सोशल वेलफेयर डिपार्टमेंट के जरिये किया जा रहा है। योजना का आवेदन ऑनलाइन स्वीकार किया जाता है। आवेदन करने के लिए https://www.7nishchay-yuvaupmission.bihar.gov.in पर ऑनलाइन फॉर्म भरा जा सकता है। योजना में आवेदन के बाद विभाग वेबसाइट पर चयनित छात्रों की लिस्ट जारी की जाती है।

इन कागजातों को रखें तैयार

योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन में इन डाक्यूमेंट्स की डिजिटल प्रति अपलोड करनी होगी। आवेदक का निवास प्रमाण पत्र, शिक्षण संस्थान संबंधी डाक्यूमेंट्स, 12 वीं पास सर्टिफिकेट, कॉलेज का ID कार्ड और बोनाफाइड सर्टिफिकेट, जाति प्रमाण पत्र और आय प्रमाण पत्र की डिजिटल कॉपी अपलोड करनी होगी।

बिहार सरकार की इस योजना का लाभ लेने के लिए राज्य द्वारा मान्यता प्राप्त उच्च शिक्षण संस्थान या केंद्र सरकार के अधीन किसी मान्यता प्राप्त संस्थान में रेगुलर कोर्स में नामांकन अनिवार्य है। कोर्स टेक्निकल और सामान्य किसी भी तरीके का हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.