बिहार में दवा के नाम पर शराब की खेप मंगवाने वाले धंधेबाज को 10 साल की कैद, 2 लाख रुपये जुर्माना

खबरें बिहार की जानकारी

दवा के नाम पर शराब की खेप मंगवाने के मामले में विशेष उत्पाद कोर्ट के जज राकेश कुमार ने सोमवार को शराब माफिया उमेश सहनी को दस साल की सजा सुनायी है। उस पर दो लाख रुपये जुर्माना भी किया गया है। जुर्माना नहीं चुकाने पर एक साल तक अतिरिक्त कैद की सजा भुगतनी होगी।

हरियाणा से विदेशी शराब की खेप मंगवाने के मामले में मीनापुर थाना क्षेत्र के डुबरबन्ना निवासी उमेश सहनी को 16 जुलाई 2020 को हथौड़ी से गिरफ्तार किया गया था। विशेष कोर्ट ने बीते 27 मई को उसे दोषी ठहराया था। हथौड़ी थाना पुलिस ने उत्तराखंड के ट्रक पर लोड एक हजार 143 बोतल विदेशी शराब के साथ उमेश सहनी को गिरफ्तार किया था। मौके से उमेश के पांच साथी फरार हो गए थे। उमेश को कठोर सजा सुनायी जाने से मामले में फरार डुबरबन्ना निवासी राजीव सहनी, मुकेश सहनी, मणिकपुर निवासी अजय राय, भूषण राय व शाहपुर मणिकपुर निवासी नवल किशोर राय पर शिकंजा कस गया है।

जलजीरा व अचार के साथ छिपाकर रखी थी शराब

उत्पाद मामले के अनुमंडल अभियोजन अधिकारी सत्येंद्र प्रसाद ने बताया कि शराब माफिया उमेश सहनी को रंगे हाथ शराब लोड ट्रक के साथ गिरफ्तार किया गया था। विदेशी शराब हाजमा की गोली, जलजीरा व अचार आदि के कार्टन के नीचे छिपा कर रखी थी। पुलिस को धोखा देने के लिए शराब माफियाओं ने दवा के कार्टन के नीचे शराब छिपा रखी थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.