क्या बिहार में दस्तक देने लगी है कोरोना की तीसरी लहर? मधुबनी में बढ़े मामले।

जानकारी

क्या बिहार में कोरोना वायरस की महामारी की तीसरी लहर का आगाज हो चुका है? क्या मधुबनी जिला कोरोना संक्रमित मरीजों का नया हॉटस्पॉट बन गया है? यह तमाम सवाल इस वजह से उठ रहे हैं क्योंकि बिहार के मधुबनी जिले में पिछले दो दिन में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से उछाल देखने को मिला है. मधुबनी में पिछले दो दिन में 67 नए मामले सामने आए हैं.

 

दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर दिल्ली, मुंबई, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और केरल से बिहार आने वाले यात्रियों की रेलवे स्टेशन पर कोरोना एंटीजन जांच करवाई जा रही है. मधुबनी रेलवे स्टेशन पर सोमवार को स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस से उतरे यात्रियों की जांच की गई तो 35 यात्री संक्रमित पाए गए. इससे पहले रविवार को मुंबई से आने वाली पवन एक्सप्रेस से आए यात्रियों की जांच में 32 यात्री संक्रमित पाए गए थे.

 

कहते हैं सिविल सर्जन

 

मधुबनी के सिविल सर्जन डॉक्टर सुनील कुमार झा ने कहा कि एंटीजन जांच में कुछ लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है लेकिन अचानक इस तरह से बाहर से आने वाले यात्रियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आना संदेह उत्पन्न करता है. जो भी लोग पॉजिटिव पाए गए हैं, उनका आरटी पीसीआर टेस्ट भी कराया जा रहा है. इस बात की भी जांच कराई जा रही है कि जो एंटीजन किट जांच में इस्तेमाल की जा रही है वह कहीं खराब तो नहीं.

 

स्वास्थ्य मंत्री ने दिया ये बयान

 

मधुबनी में कोरोना केस अचानक बढ़ने को लेकर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा है कि हम जिला प्रशासन के संपर्क में हैं. सभी यात्रियों का दोबारा से आरटी पीसीआर टेस्ट कराया जा रहा है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि सभी संक्रमित हैं या नहीं. उन्होंने कहा कि आरटी पीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है. स्वास्थ्य विभाग पूरे मामले को लेकर अलर्ट पर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *