बिहार में अस्पताल बना अखाड़ा, ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर को डॉक्टर ने पीटा; जानें पूरा मामला

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के औरंगाबाद सदर अस्पताल में शनिवार की रात दो डॉक्टर आपस में ही भिड़ गए। एक डॉक्टर में दूसरे डॉक्टर की पिटाई कर दी। इस दौरान जमकर हंगामा हुआ। इमरजेंसी सेवा ठप हो गई और मरीजों का इलाज पूरी तरह बंद हो गया।

जानकारी के अनुसार इमरजेंसी सेवा में डॉ प्रवीण कुमार कार्य कर रहे थे। इसी दौरान अचानक डॉ आलोक रंजन पहुंचे और उनके साथ हाथापाई करने लगे। वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें संभालने का प्रयास किया तो वह दुर्व्यवहार करने लगे। इसके बाद यहां हंगामा शुरू हो गया। इमरजेंसी सेवा ठप हो गई और मरीजों का इलाज पूरी तरह बंद हो गया।

डॉ प्रवीण कुमार ने इस तरह की परिस्थिति में काम करने से मना कर दिया। मामले की सूचना डीएम को दी गई। डीएम ने सिविल सर्जन को कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया। इसके बाद सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ आशुतोष कुमार, सदर अस्पताल के प्रबंधक हेमंत राजन अस्पताल पहुंचे। इससे पहले ही डॉ आलोक रंजन यहां से फरार हो गए। सदर अस्पताल में इमरजेंसी सेवा बहाल की गई। इसके साथ ही सुरक्षाकर्मियों को डॉ आलोक रंजन को परिसर में नहीं घुसने देने के लिए निर्देशित किया गया।

सदर अस्पताल के उपाधीक्षक डॉ आशुतोष कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच की गई है। डॉ प्रवीण कुमार सर्जन हैं और वे ड्यूटी में थे। डॉ आलोक रंजन की ड्यूटी भी नहीं थी और वह अकारण यहां पहुंच कर मारपीट करने लगे। गनीमत रही कि सुरक्षाकर्मी मौजूद थे। उन्होंने बताया कि डॉ आलोक रंजन को सदर अस्पताल से हटाया जाएगा। इस मामले से वरीय अधिकारियों को भी अवगत करा दिया गया है।

डीएम सौरभ जोरवाल ने कहा कि आलोक रंजन को हटाने के लिए वरीय स्तर पर पत्राचार किया गया है। इमरजेंसी सेवा बहाल कर दी गई है। डॉक्टर पर कार्रवाई की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दे दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.