बिहार की छात्राओं का कमाल, इतनी विशाल राखी बनाकर बनाया रिकॉर्ड

खबरें बिहार की जानकारी

आपने बाजार में अभी तक सिर्फ ऐसी राखी देखी होगी जो इंसान की कलाई पर सिर्फ आ सके। लेकिन बिहार की राजधानी पटना में छात्राओं ने इंसानों से बनी इतनी बड़ी राखी बनाई जिसने रिकॉर्ड ही बना दिया। पटना की नॉट्रेडम एकेडमी की 480 छात्राओं ने मिलकर 808 फुट लंबी और 60 फीट चौड़ी राखी बनाकर इंडियन बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवा लिया है। आजादी के अमृत महोत्सव को रक्षाबंधन से जोड़ कर स्कूल की आठवीं और नौंवी की छात्राओं ने यह राखी तैयार किया। राष्ट्रीय एकता, विश्व बंधुत्व,  आजादी का अमृत महोत्सव, सांप्रदायिक सदभाव और भाईचारे के थीम पर राखी को तैयार किया गया।

नॉट्रेडम शिक्षक अभिभावक संघ द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम का आयेाजन किया गया था। राखी के बीच के हिस्से की लंबाई 60 फीट और चौड़ाई 30 फीट था। इसमें छात्राओ द्वारा बनाया गया चार सौ पेंटिंग लगाया गया था। वहीं राखी के दोनों लड़ियों में 280 पेंटिंग लगाए गए थे। शिक्षक अभिभावक संघ की अध्यक्षा रतिका अग्रवाल ने बताया कि इससे पहले एनटीआर भवन बंजारा हिल हैदराबाद में 2019 में 666 फीट लंबी राखी बनी थी।

इससे पहले ब्रह्मकुमारी द्वारा बुक टैंपल रोड बंगलूरू में 2013 में रक्षाबंधन के मौके पर चार सौ फीट लंबी राखी बनाई गई थी। इन दोनों से बड़ी राखी सोमवार को स्कूल की छात्राओं ने तैयार किया है। इंडियन बुक ऑफ रिकार्ड में नाम दर्ज हो गया है। वहीं लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में भी अगले साल रखा जाएगा। क्योंकि लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड के लिए 31 मई तक ही आवेदन करने की तारीख है।

राखी को सुबह छह बजकर 30 मिनट पर बनाना शुरू किया गया। पूरी राखी बनाने में तीन घंटे का समय लगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पर्षद के सचिव एस चंद्रशेखर और विशिष्ट अतिथि आईजीआईएमएस के निदेशक उा. विभुति प्रसाद सिन्हा थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.