बिहार के स्टूडेंट ने निकाली गूगल की गलती और बना लखपति? जानें सच्चाई

प्रेरणादायक

बिहार के बेगूसराय जिले के रहने वाले और मणिपुर आईआईटी से बीटेक कर रहे सेकेंड ईयर के छात्र ऋतुराज चौधरी ने अपने रिसर्च के दौरान सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल की एक गलती को उजागर किया है। ऋतुराज ने इस संबंध में गूगल को अवगत करा दिया है। गूगल ने भी छात्र की ओर से मिली जानकारी को स्वीकार कर लिया। इस बीच सोशल मीडिया पर खबर वायरल होने लगी कि बिहार के छात्र ने गूगल की गलती को किया उजागर और उसे अब गूगल की ओर से 31 हजार डॉलर का इनाम दिया जाएगा।

वहीं इस संबंध में जब ऋतुराज से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हां, मैंने गूगल की एक टेक्निकल गलती को अपनी रिसर्च को दौरान पता लगाया था और इसकी सूचना उस मैंने गूगल कंपनी को भी दे दी। गूगल की ओर से भी मेरे द्वारा भेजे गए स्क्रिनशॉट को स्वीकार कर लिया गया। ऋतुराज से जब पूछा गया कि क्या आपको गूगल इसके लिए कोई इनाम भी देगी तो उन्होंने बताया कि फिलहाल कंपनी की ओर से मुझे ऐसा कोई लिखित नहीं दिया गया है।

ऋतुराज ने बताया कि गूगल सबसे बड़ा सर्च इंजन है लेकिन उसकी साइट पर ब्लैक हैट हैकर्स एक रास्ते से हमला कर सकते थे, जिसका पता लगाकर मैंने गूगल को इसकी रिपोर्ट की थी। ऋतुराज ने आगे बताया कि गूगल ने रिपोर्ट मिलने के बाद उसमें सुधार कर रही है। ऋतुराज के पिता बेगूसराय के एक आभूषण व्यवसाई है। ऋतुराज ने बेगूसराय में रहते हुए जोसेफ पब्लिक स्कूल में पढ़ाई की है। उन्होंने वहीं से दसवीं पास कर ली थी इसके बाद आगे की पढ़ाई के लिए कोटा चले गए थे। फिलहाल वह सायबर सिक्योरिटी का कोर्स कर रहे हैं और अपनी आईआईटी की पढाई को पूरा कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.