बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर विक्षिप्त युवक ने की हमले की कोश‍िश, मुख्‍यमंत्री ने अफसरों से कह दी बड़ी बात

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सुरक्षा में रविवार को एक बड़ी चूक का मामला सामने आया। उनके पैतृक शहर पटना जिले के बख्तियारपुर में एक विक्षिप्त युवक ने पीछे से उन पर हमले का प्रयास किया। शाम पांच बजे के करीब यह घटना उस वक्त हुई, जब मुख्यमंत्री द्वारा स्वतंत्रता सेनानी पंडित शीलभद्र याजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जा रहा था। मुख्यमंत्री इन दिनों अपने पुराने लोकसभा क्षेत्र बाढ़ में विभिन्न जगहों पर पुराने लोगों से मिल रहे हैैं। इसी कड़ी में आज वह बख्तियारपुर पहुंचे थे। इस पूरेे घटनाक्रम से जुड़े कई वीडियो वायरल हो रहे हैं, हालांकि ऐसे किसी वीडियो की सत्‍यता की पुष्टि जागरण डाट काम नहीं करता है।

अपने घर में ठहरने के बाद घूमने निकले थे मुख्‍यमंत्री 

घटना के संबंध में बताया गया कि मुख्यमंत्री बख्तियारपुर के सीढ़ी घाट के समीप अपने समर्थकों से मिलने के बाद एनएच पर स्थित अपने घर चले गए। घर पर कुछ समय रहने के बाद वह बख्तियारपुर बाजार की ओर निकले। वहां स्वास्थ्य केंद्र परिसर में स्वतंत्रता सेनानी पंडित शीलभद्र याजी की प्रतिमा लगी है। तय कार्यक्रम के तहत उन्हें प्रतिमा पर माल्यार्पण करना था। मुख्यमंत्री अपने सुरक्षा कर्मियों और अधिकारियों के साथ परिसर में पहुंचे तो गेट को बंद कर दिया गया।

युवक ने किया पीछे से हमले का प्रयास 

कुछ फोटोग्राफरों के साथ हमलावर युवक इस परिसर में प्रवेश कर गया। मुख्यमंत्री जब प्रतिमा के चबूतरे पर पहुंचे तो युवक तेज गति से बढ़कर उनके समीप पहुंच गया और पीठ की ओर से हमले का जबर्दस्त प्रयास किया। मुख्यमंत्री भौैंचक रह गए। सुरक्षाकर्मियों को भी कुछ समझ में नहीं आया। उन्होंने तत्काल हमलावर युवक को अपने कब्जे में ले लिया और चबूतरे से हटा दिया। मुख्यमंत्री माल्यार्पण के कार्यक्रम के बाद वहां से निकल गए।

सुरक्षा चूक से परेशान रहे पुलिस के बड़े अफसर 

मुख्यमंत्री की सुरक्षा में चूक के मामले ने पुलिस महकमे को परेशान कर दिया। पटना के एसएसपी और ग्रामीण एसपी सहित कई आला अधिकारी बख्तियारपुर थाने पहुंचे। हमलावर से घंटों पूछताछ हुई। स्वजनों की तलाश की गई तो उसके घर पर ताला लगा मिला। युवक के बारे में जानकारी मिली कि वह पहले स्टूडियो चलाता था।

युवक का इरादा और उसका बैकग्राउंड जानने में जुटी पुलिस

पुलिस पूछताछ के जरिए युवक का इरादा और उसका बैकग्राउंड जानने की कोशिश कर रही है। मिली जानकारी के अनुसार मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार रविवार को बाढ़ और बख्तियारपुर से लगे गांवों में अपने पुराने मित्रों और संघर्ष के साथियों के अलावा आम लोगों से मिल रहे थे। इस क्रम में मुख्‍यमंत्री कई जगह पैदल घूमते हुुए भी लोगों से मिलते और उनकी बातें सुनते रहे। बताया जा रहा है कि बख्तियारपुर में यह घटना मुख्‍यमंत्री के पैदल भ्रमण के दौरान ही हुई।

बाढ़ क्षेत्र से रहा है मुख्‍यमंत्री का पुराना लगाव 

आपको बता दें कि मुख्‍यमंत्री ऐसा पिछले कई दिनों से लगातार कर रहे हैं। समाज सुधार यात्रा में विराम के बाद वे पटना जिले के अंतर्गत बाढ़, बख्तियारपुर और नालंदा के गांवों की तरफ लगभग हर रोज निकल पड़ते हैं। इस दौरान वे लोगों से पूरी आत्‍मीयता से मिलते हैं और उनकी बातें सुनते हैं। बाढ़ और बख्तियारपुर क्षेत्र के लोगों से मुख्‍यमंत्री का पुराना और गहरा लगाव रहा है। वे उन दिनों की यादें अक्‍सर साझा करते हैं, जब क्षेत्र के गांवों में कई-कई किलोमीटर तक पैदल घूमा करते थे।

हमलावर युवक पर पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करे : नीतीश

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने ऊपर हमला का प्रयास करने वाले युवक पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि जिस युवक ने यह कोशिश की वह मानसिक रूप से विक्षिप्त है। अधिकारी उसकी समस्या को सुलझाने में मदद करें।

सीएम सुरक्षा में लगे कर्मियों पर होगी कार्रवाई 

एडीजी (मुख्‍यालय) जितेंद्र सिंह गंगवार ने कहा कि जिस आदमी ने हरकत की है, उसे सुरक्षाकर्मियों के द्वारा तुरंत हिरासत में ले लिया गया है। उसके बारे में पूरी छानबीन की जा रही है। प्रथमदृष्टया युवक विक्षुब्ध प्रतीत हो रहा है। इस घटना से संबंधित सभी पहलुओं की गहराई से जांच की जा रही है। सीएम की सुरक्षा में लगे कर्मियों की जिम्मेदारी का भी निर्धारण किया जा रहा है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.