बिहार के चोरों की करतूत, रेलवे ट्रैक से 350 मीटर ओवरहेड तार चुराई, कोसी एक्सप्रेस में लगा इमरजेंसी ब्रेक

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के सहरसा में जान पर खेलकर चोरी करने वाले चोरों की करतूत ने पूर्णिया जा रहे कोसी एक्सप्रेस में इमरजेंसी ब्रेक लगवा दिया। ट्रेन में इमरजेंसी ब्रेक लगने से यात्रियों की जान सांसत में फंस गई। इस रूट पर चोरों ने रेलवे ट्रैक से करीब 350 मीटर ओवरहेड तार चुरा लिए। ट्रेन आती देख चोर जितना तार समेट कर भाग सके, भाग निकले लेकिन कुछ लटकती तार छोड़ गए जिसमें कोसी एक्सप्रेस का इंजन फंस गया।

सहरसा से पूर्णिया कोर्ट की ओर जा रही कोसी एक्सप्रेस ट्रेन के इंजन में बुधवार देर रात ओवरडेड बिजली का तार फंस गया। कृत्यानंद नगर-पूर्णिया कोर्ट के बीच यह हादसा हुआ। ट्रेन के लोको पायलट ने तेज आवाज के बाद इमरजेंसी ब्रेक लगाकर गाड़ी को रोका। इससे ट्रेन के अंदर मौजूद यात्रियों में अफरातफरी की स्थिति बन गई। हालांकि बड़ा हादसा होते-होते टल गया। इस वजह से सहरसा-पूर्णिया कोर्ट रूट पर करीब तीन घंटे तक ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा।

बताया जा रहा है कि किसी चोर ने बिजली के तार को काट दिया था। इससे ट्रैक से गुजर रही कोसी एक्सप्रेस के इंजन में वह तार फंस गया। जानकारी मिलते ही तुरंत एईई श्रवण कुमार ने सहरसा से टावर वैगन को भेजा। वैगन से पहुंचे रेल इलेक्ट्रिक विभाग के तकनीकी कर्मियों ने चोर द्वारा काटे गए ओवरहेड बिजली तार को हटाकर दुरुस्त किया। इस वजह से देर रात करीब 11.50 से ढाई बजे तक कोसी एक्सप्रेस वहीं खड़ी रही। ट्रैक फिट मिलने के बाद चली कोसी एक्सप्रेस देर रात 2.49 बजे पूर्णिया कोर्ट पहुंची। जबकि इस ट्रेन का पूर्णिया पहुंचने का नियत समय रात 11.54 बजे है।

चोर ने तार को लटका कर छोड़ दिया 

कृत्यानंद नगर से पूर्णिया कोर्ट तरफ करीब दो से तीन किलोमीटर की दूरी में चोर ने रेल विद्युतीकरण कार्य के तहत जोड़े गए 350 मीटर तार को काट लिया था। बताया जा रहा है कि कुछ तार को चोर काटकर ले गए और शायद ट्रेन के आने की वजह से बचा हुआ तार वहीं छोड़कर भाग गए। वो तार लटका रह गया और फिर ट्रेन के इंजन में फंस गया।

बताया जा रहा है कि दो दिन पहले भी दिन के समय में ही कृत्यानंद नगर के पास ही ओवरहेड बिजली तार को काट दिया गया था जिसे झूलता देख बनमनखी के लिए वायरिंग ट्रेन से लौट रहे कर्मियों ने जोड़कर ठीक किया। कोसी एक्सप्रेस में तार के फंसने की जानकारी पर बनमनखी पोस्ट के आरपीएफ इंस्पेक्टर रघुनंदन मुर्मू कृत्यानंद नगर से पूर्णिया कोर्ट के बीच में घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने छानबीन की। ओवरहेड बिजली तार काटने के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ आरपीएफ पोस्ट रिपोर्ट दर्ज की गई है।

पूर्णिया कोर्ट स्टेशन पर रोक रखी गई जानकी एक्सप्रेस

कोसी एक्सप्रेस में तार फंसने की घटना के कारण मनिहारी-कटिहार तरफ से पहुंची जानकी एक्सप्रेस को पूर्णिया कोर्ट स्टेशन पर रोककर रखा गया। यह ट्रेन तीन घंटे से अधिक समय तक पूर्णिया कोर्ट स्टेशन पर रुकी रही। परिचालन बहाल होने के बाद देर रात 1.10 बजे पूर्णिया कोर्ट पहुंची यह ट्रेन 3.19 बजे सहरसा तरफ के लिए खुली। वहीं देर रात 2.05 की बजाय एक घंटे 40 मिनट की देरी से 3.45 बजे अलसुबह करीब कोसी एक्सप्रेस हटिया के लिए वाया सहरसा को चली। इन ट्रेनों के संचालन में देरी होने से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.