बिहार के अस्पतालों में नहीं होगी ऑक्सीजन की किल्लत, 68 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बिछेगी पाइपलाइन

खबरें बिहार की जानकारी

कोरोना काल में अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी के कारण उत्पन्न हुई गंभीर स्थिति से सबक लेकर सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन की व्यवस्था करने की तैयारी में सरकार जुट गई है ताकि, भविष्य में कोरोना का खतरा आने पर उसकी चुनौतियों से आसानी से निपटा जा सके। इसके तहत 68 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में आक्सीजन पाइपलाइन बिछाई जाएगी।

बिहार चिकित्सा सेवा व आधारभूत संरचना विकास निगम को पाइपलाइन बिछाने की जिम्मेदारी दी गई है। निजी क्षेत्र की कंपनियों से प्रस्ताव आमंत्रित किया गया है। तीन जून से निविदा डालने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। निविदा प्रक्रिया पूरी होने के एक से डेढ़ माह में ऑक्सीजन पाइपलाइन बिछाने का काम पूरा कर लिया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, कोरोना की तीसरी लहर और ओमिक्रोन की आशंका को देखकर राज्य सरकार ने पिछले साल ऑक्सीजन की कमी दूर करने के लिए 122 सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट लगाने का फैसला किया।

इनमें सभी चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल, सभी सदर अस्पताल, सभी अनुमंडलीय अस्पताल और कुछ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भी शामिल हैं। साथ ही मेडिकल कॉलेज अस्पताल से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बेड तक ऑक्सीजन की सप्लाई करने के लिए पाइपलाइन बिछाने का भी निर्णय किया गया। ताकि, मरीजों का निर्बाध रूप से ऑक्सीजन मिल सके।

सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बिछेंगे पाइपलाइन 

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में चरणबद्ध तरीके से पाइपलाइन बिछाने का काम चल रहा है। सरकार की तरफ से निविदा आमंत्रित की जा रही है। इसके बाद भी निजी क्षेत्र की कंपनियों द्वारा निविदा में भाग नहीं लेने के कारण कई जगहों पर पाइपलाइन बिछाने का काम नहीं हो सका। बावजूद सरकार चयनित सामुदायिक केंद्रों में पाइप लाइन बिछाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। 68 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बिछेगी ऑक्सीजन पाइपलाइन बिछाने की प्रक्रिया शुरू की गई है।

इन जिलों में बिछेंगे ऑक्सीजन गैस पाइपलाइन 

मुंगेर के तीन, जमुई के पांच, लखीसराय के दो, शेखपुरा के दो, बेगूसराय के पांच, खगड़िया के तीन, भागलपुर के आठ, बांका के छह, भोजपुर के सात, पटना के पांच, नालंदा के एक, रोहतास के छह, कैमूर के चार, बक्सर के चार और गोपालगंज के जिले के सात सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शामिल हैं।

यहां हो चुका है पाइपलाइन बिछाने का काम 

मुजफ्फरपुर के 14, वैशाली के चार, पूर्वी चंपारण के 14, पश्चिमी चंपारण के नौ, शिवहर के दो, सारण के 11, सीवान के 11, दरभंगा के नौ, औरंगाबाद के छह, अरवल के तीन नवादा के आठ जहानाबाद के तीन और समस्तीपुर के 10 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन गैस पाइपलाइन बिछाने का काम पूरा हो चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.