बिहार का लाल साउथ अफ्रीका के खिलाफ वनडे में दिखाएगा दम, इंडियन टीम के लिए खेलेंगे मुकेश; पिता चलाते थे ऑटो

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के गोपालगंज जिले के गोपालगंज सदर प्रखंड के मानिकपुर गांव निवासी स्वर्गीय काशीनाथ सिंह के पुत्र मुकेश कुमार ने जिले व राज्य का नाम रोशन किया है। इंडिया ‘ए’ क्रिकेट टीम में शानदार प्रदर्शन के बाद बीसीसीआई ने तेज गेंदबाद मुकेश कुमार को इंडियन टीम में सेलेक्ट किया है। मुकेश कुमार इंडिया के लिए अपना पहला मैच साउथ अफ्रीका से छह अक्टूबर को खेलेंगे। बता दें कि मुकेश का चयन न्यूजीलैंड ‘ए’ क्रिकेट टीम के खिलाफ स्वदेश में होनेवाली शृंखला के लिए किया गया था।

बता दें कि काकड़कुंड गांव के रहने वाले मुकेश कुमार एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं। मुकेश के पिता स्व. काशीनाथ सिंह कोलकाता में ऑटो चलाते थे। माता गृहणी हैं। मुकेश कुमार गांव में मोहल्लों के बच्चों के साथ क्रिकेट खेलते हुए इस मुकाम पर पहुंच गए हैं।

वर्ष 2008-09 में जिले में आयोजित एक क्रिकेट टूर्नामेंट में मुकेश ने पहली बार अपनी शानदार गेंदबाजी का प्रदर्शन किया था। टूर्नामेंट के कुल सात मैच में एक हैट्रिक सहित कुल 34 विकेट लेकर उन्होंने अपने दमखम व प्रतिभा का परिचय दिया था। इस दौरान जिला क्रिकेट टीम के सीनियर खिलाड़ी सत्यप्रकाश नरोत्तम और उस समय के हेमन ट्रॉफी के जिला क्रिकेट टीम के कप्तान अमित सिंह की उसपर नजर पड़ी। इसके बाद मुकेश को जिला क्रिकेट टीम में शामिल किया गया। स्टीयरिंग कमेटी द्वारा वर्ष 2010-11 आयोजित अंडर 19 क्रिकेट टूर्नामेंट में उसने बिहार का प्रतिनिधित्व किया। लेकिन, दुर्भाग्यवश उस समम बिहार में क्रिकेट की मान्यता नहीं होने के कारण उसने वर्ष 2012 में पश्चिम बंगाल का रुख किया और फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा।

बंगाल में मुकेश ने वहां की स्टेट टीम में जगह बनाई। अपनी प्रतिभा के बल पर वह आज बंगाल टीम का स्ट्राइकर गेंदबाज बना हुआ है। वह रणजी ट्रॉफी के लगातार दो सीजन में 30 से ज्यादा विकेट लेकर चयनकर्ताओं की नजर में आया। इसके बाद इंडिया ए टीम में उसका चयन करने के लिए चयनकर्ता मजबूर हुए। चयन पर गोपालगंज में थाना प्रभारी रह चुके और उसे कठिन मेहनत की सलाह देने वाले वर्तमान समय में गया के शेरघाटी थाना प्रभारी आरके सिंह ने काफी हर्ष वयक्त किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.