मुख्यमंत्री के बाद अब डीएम करेंगे हवाई सर्वे सर्वेक्षण, बाढ़ से नुकसान का आकलन कर दी जाएगी सहायता

खबरें बिहार की

सभी जिलाधिकारियों को किसानों के नुकसान का आकलन करने का निर्देश देते हुए CM नीतीश कुमार ने कहा कि किसानों को कृषि कार्य में काफी नुकसान हुआ है, इसका ठीक से आकलन करें और फसल सहायता योजनाओं सहित अन्य योजनाओं का लाभ दिलवाएं.

बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आपदा प्रबंधन विमाग और जल संसाधन विभाग के साथ की समीक्षा बैठक की. बुधवार को हुई बैठक में अधिकारियों को निर्देश देते हुए सीएम ने कहा कि जून में पहले कभी इतनी वर्षापात नहीं हुई थी, इस बार अधिक वर्षापात के कारण कई जिलों में बाढ़ की स्थिति बनी. हमने आज हवाई सर्वे किया, जिसमें वस्तुस्थिति की जानकारी से अवगत हुआ. सीएम नीतीश कुमार ने सभी जिलाधिकारी को बाढ़ प्रभावित इलाकों में हवाई सर्वे करने का निर्देश देते हुए कहा कि हवाई सर्वे कर अपने जिलों की वास्तविक स्थिति की जानकारी लें और उसके आधार पर आकलन करें. हवाई सर्वे के दौरान कृषि विभाग एवं आपदा प्रबंधन विभाग के भी अधिकारी मौजूद रहे.

सीएम नीतीश ने कहा कि लोगों की राहत के लिए हम सबको काम करना है, उन्हें हर प्रकार से मदद करनी है. हमने शुरू से ही कहा है कि सरकार के खजाने पर पहला अधिकार आपदा पीड़ितों का है. यह जरूरी है कि समय पर लोगों को सहायता उपलब्ध हो, इसके लिए संवेदनशीलता के साथ काम करें. एक-एक चीज का सही से आकलन होगा तो रिलिफ वर्क में और बेहतर ढंग से हो सकेगा.

किसानों के नुकसान का आकलन करने का निर्देश देते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि किसानों को कृषि कार्य में काफी नुकसान हुआ है, इसका ठीक से आकलन करें और फसल सहायता योजनाओं सहित अन्य योजनाओं का लाभ दिलवाएं. जो राहत कैंप बनाए गए हैं वहां पर कोरोना जांच और टीकाकरण कार्य अवश्य कराएं. कोरोना पॉजिटिव पाए जाने वालों के रहने एवं देखभाल की अलग से व्यवस्था कराएं. अभी कोरोना का दौर भी है और बाढ़ की स्थिति भी है. इसको ध्यान में रखते हुए बचाव एवं राहत कार्य योजनाबद्ध ढंग से करें और आगे के लिए भी पूरी तैयारी रखें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.