मामूली से शिक्षक से बीपीएससी तक का सफर कुछ इस तरह से किया पूरा

खबरें बिहार की

वजीरगंज प्रखंड के दखिनगाँव पंचायत के भरेती निवासी स्व. कारू चौधरी के छोटे पुत्र महेश चौधरी ने 56वीं से 59वीं बीपीएससी परीक्षा में सफलता हासिल कर अपने वजीरगंज क्षेत्र के लोगों का नाम रौशन किया है।

महेश 1999 बैच के शिक्षक हैं ,जो वर्तमान में मोहड़ा प्रखंड के मध्य विद्यालय , कोयरीयाचक में प्रधानाध्यापक हैं। बचपन में पिता का साया उठने के बाद माता सिमरिखिया देवी ने अपने पुस्तैनी धंधे एवं मेहनत मज़दूरी करके सभी को किसी तरह लालन पालन किया।

इनकी प्रारम्भिक शिक्षा वजीरगंज के सरकारी स्कूल में हुई। इन्होंने मैट्रिक की परीक्षा श्री रामानूग्रह उच्चतर माध्यमिक विद्यालय से 1994 में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण के प्रखंड में अव्वल स्थान प्राप्त किया था।

जगजीवन कॉलेज गया से इंटर एवं स्नातक करने के बाद नालंदा खुला विश्वविद्यालय से एम.ए. एवं बी.एड की डिग्री हासिल की हालाँकि इंटर पास करने के बाद स्नातक प्रथम वर्ष 1999 में ही इन्हें प्रारम्भिक शिक्षक में नौकरी लग गई थी ।

2003 में इनकी शादी हो गई थी। इन्होंने 2015 में बीपीएससी की प्रारम्भिक परीक्षा पास कर 2016 में अंतिम परीक्षा पास कर सफलता हासिल की। 19 अप्रैल 2018 को इनका साक्षात्कार लिया गया। शनिवार को बिहार सरकार द्वारा जारी लिस्ट में 116वां स्थान प्राप्त करने और डीएसपी पद मिलने की सूची जारी के बाद इन्हें बधाइयों का तांता लग गया।

इसके पूर्व इन्हें दो बार पीटी एवं एक बार साक्षात्कार से पिछड़ गये थे। महेश ने बताया कि सफलता का एक मात्र स्रोत कठिन परिश्रम और दृढ़संकल्पित होना है। असफलता से घबराना नही चाहिये बल्कि उसका डटकर मुकाबला करनी चाहिये। अपने इस सफलता का श्रेय अपनी माता एवं बड़े भाई सुरेश चौधरी को देते हैं, जिन्होंने विकट परिस्थिति में हमारी प्रारम्भिक शिक्षा प्रदान की।

इनके डीएसपी बनने पर वजीरगंज के शिक्षक साथियों ने बधाई दी है। इनके शिक्षक मित्र राकेश कुमार , तारकेश्वर दास ने बताया कि पिछले वर्ष साक्षात्कार में असफलता के बाद बहुत हतोत्साहित हो गये थे। चार दिनों तक घर से निकले नही थे तब हमलोगों ने इन्हें प्रोत्साहित किया था।

आज इनके सफलता पर इनकी पत्नी गृहणी प्रियंका बेटी लक्की , माही एवं पुत्र अमन सहित इनकी माता एवं भाई सभी खुश थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *