बिग ब्रेकिंग: आखिरकार मिल गए कांग्रेस के गायब हुए विधायक, इस हाल में थे यहां छिपे हुए

राजनीति

पटना: कर्नाटक विधानसभा कार्यवाही के दौरान सदन से लापता कांग्रेस के विधायक एक होटल में पाए गए हैं। बता दें कि कांग्रेस के दो विधायक आनंद सिंह व प्रताप गौड़ा सदन नहीं पहुंचे थे। इसके अलावा भाजपा के विधायक सोमशेखर रेड्डी भी विधानसभा से गायब रहे थे। वहीं कांग्रेस के आरोप के बाद जांच पड़ताल में जुटी पुलिस को कांग्रेस व बीजेपी के लापता विधायक बेंगलुरु के होटल गोल्डफिंच में मिले हैं। यहां तीनों विधायक एक साथ रह रहे थे। वहीं, सदन की कार्यवाही के बीच लंच तक बीजेपी के नंबर पूरे नहीं हो पाएं हैं। अब तक 70 विधायक शपथ ले चुके हैं।

वनिर्वाचित विधायकों ने ली शपथ

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा का नया सत्र नवनिर्वाचित विधायकों के शपथ ग्रहण के साथ शुरू हुआ। मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा के नेतृत्व में भाजपा को आज सदन में बहुमत साबित करना है। कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने शनिवार को 15वीं कर्नाटक विधानसभा का सत्र बुलाया, और सदन में नवनिर्वाचित विधायकों का शपथग्रहण शुरू हुआ। वहीं, विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष के.जी. बोपैया सदन की कार्यवाही का संचालन कर रहे हैं। सबसे पहले मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने सबसे पहले शपथ ग्रहण की। इसके बाद कांग्रेस विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और जनता दल (सेकुलर) के विधायक दल के नेता एच.डी. कुमारस्वामी ने शपथ ली।

ये प्रमुख विधायक रहे मौजूद

इन तीनों के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस और जेडी(एस) के विधायकों का शपथ ग्रहण शुरू हुआ। सदन में मौजूद प्रमुख विधायकों में राज्य में भाजपा के पूर्व उपमुख्यमंत्री के.एस.ईश्वरप्पा, बी.श्रीरामुलू, कांग्रेस विधायक डी.के.शिवकुमार, आर.वी.देशपांडे, एम.बी.पाटील, शमनुरु शिवशंकरप्पा और जेडी(एस) के जी.टी.देवगौड़ा और एच.डी.रेवन्ना शामिल हैं। इसके बाद बोपैया सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशानुसार येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने को कहेंगे। यदि विपक्षी विधायक मत विभाजन पर जोर देंगे तो अस्थायी अध्यक्ष विश्वास मत का समर्थन करने वाले सदस्यों से पहले वोट करने को और विरोध करने वालों को बाद में वोट करने को कहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.