PM मोदी का बड़ा ऐलान, 15 से 18 साल के बच्चों के लिए 3 जनवरी से शुरू होगा कोरोना वैक्सीनेशन

राष्ट्रीय खबरें

Patna: कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को देश को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश को सावधान रहने की जरूरत है और सभी देशवासियों को मास्क पहनने का पालन करना चाहिए. उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि देश में इस वक्त एक लाख 40 हजार आईसीयू बेड हैं, जबकि ऑक्सीजन समेत 5 लाख बेड हैं. इसके साथ ही देश में अब तक 141 करोड़ लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. उन्होंने कहा, “भारत में भी कई लोगों के ओमीक्रॉन से संक्रमित होने का पता चला है. मैं आप सभी से आग्रह करूंगा कि panic नहीं करें सावधान और सतर्क रहें. मास्क और हाथों को थोड़ी-थोड़ी देर पर धुलना, इन बातों को याद रखें.”

उन्होंने आगे कहा, “कोरोना वैश्विक महामारी से लड़ाई का अब तक का अनुभव यही बताता है कि व्यक्तिगत स्तर पर सभी दिशानिर्देशों का पालन, कोरोना से मुकाबले का बहुत बड़ा हथियार है. और दूसरा हथियार है वैक्सिनेशन.” भारत ने इस साल 16 जनवरी से अपने नागरिकों को वैक्सीन देना शुरू कर दिया था. ये देश के सभी नागरिकों का सामूहिक प्रयास और सामूहिक इच्छाशक्ति है कि आज भारत 141 करोड़ वैक्सीन डोज के अभूतपूर्व और बहुत मुश्किल लक्ष्य को पार कर चुका है.

 

 

आज भारत की वयस्क जनसंख्या में से 61 प्रतिशत से ज्यादा जनसंख्या को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है. इसी तरह, वयस्क जनसंख्या में से लगभग 90 प्रतिशत लोगों को वैक्सीन की एक डोज लगाई जा चुकी है. आज हर भारतवासी इस बात पर गर्व करेगा कि हमने दुनिया का सबसे बड़ा, सबसे विस्तारित और कठिन भौगोलिक स्थितियों के बीच इतना सुरक्षित वैक्सीनेशन अभियान चलाया. कईं राज्य और विशेषकर पर्यटन की दृष्टि से महत्वपूर्ण राज्यों जैसे गोवा, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश ने शत प्रतिशत सिंगल डोज वैक्सीनेशन का लक्ष्य हासिल कर लिया है.

हम सभी जानते हैं कि कोरोना अभी गया नहीं है, ऐसे में सतर्कता बहुत जरूरी है. देश और देशवासियों को सुरक्षित रखने के लिए हमने निरंतर काम किया है. 15 साल से 18 साल की आयु के बीच के जो बच्चे हैं, अब उनके लिए देश में वैक्सीनेशन प्रारंभ होगा. 2022 में, 3 जनवरी को, सोमवार के दिन से इसकी शुरुआत की जाएगी. हम सबका अनुभव है कि जो कोरोना वॉरियर्स हैं, हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स हैं, इस लड़ाई में देश को सुरक्षित रखने में उनका बहुत बड़ा योगदान है. वो आज भी कोरोना के मरीजों की सेवा में अपना बहुत समय बिताते हैं. इसलिए Precaution की दृष्टि से सरकार ने निर्णय लिया है कि हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को वैक्सीन की Precaution Dose भी प्रारंभ की जाएगी. इसकी शुरुआत 2022 में, 10 जनवरी, सोमवार के दिन से की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *