ED की बड़ी कार्रवाई: टॉपर घोटाला के मास्‍टरमाइंड बच्चा राय की 10 करोड़ की संपत्ति जब्‍त

खबरें बिहार की

पटना: बिहार बोर्ड के इंटर टॉपर घोटाले के मास्‍टरमाइंड व जेल में बंद अमित कुमार उर्फ बच्चा राय पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। सोमवार को ईडी की टीम ने वैशाली जिले में उसकी 10 करोड़ की जमीन और प्लॉटों पर जब्ती का बोर्ड लगा दिया।

मालूम हो कि वर्ष 2016 में टॉपर घोटाला उजागर होने के बाद वैशाली के भगवानपुर प्रखंड का विशुन राय महाविद्यालय अचानक से पूरे देश में सुखिर्यों आ गया था। घोटाले का मास्‍टरमाइंड कॉलेज का प्राचार्य अमित कुमार उर्फ बच्चा राय निकला। इस घोटाले की गाज बिहार बोर्ड के तत्‍कालीन अध्‍यक्ष लालकेश्‍वर प्रसाद तथा उनकी पत्‍नी सहित कई दिग्गजाें पर गिरी। पुलिस ने बच्चा राय को भी गिरफ्तार किया। अब जांच के दौरान पुलिस को उसकी चल-अचल संपत्ति का पता चलने के बाद मामला ईडी को भी सौंपा गया है।

तीन गांवों में 28 भूखंड जब्‍त

सोमवार को पटना से ईडी की 10 सदस्यीय टीम भगवानपुर पहुंची। ईडी की टीम ने तीन गांवों में उसके 28 भूखंडों पर जब्ती के बोर्ड लगाए। ईडी ने जिन संपत्तियों को कब्जे में लिया, उनमें बच्चा राय द्वारा संचालित ट्रस्ट की संपत्ति शामिल नहीं है। हालांकि बाद में उसे भी कब्जे में लेने की कार्रवाई तय है।

पत्नी, पिता, भाई व भाई की पत्नी के नाम संपत्ति

बच्चा राय की जिन 28 संपत्तियों को ईडी ने अपने कब्जे में लिया है, उनकी कीमत 10 करोड़ रुपये से अधिक आंकी गई है। कागज पर इन संपत्तियों की कीमत दो करोड़ के करीब है। लेकिन जानकारों के अनुसार बाजार भाव 10 करोड़ से ज्यादा आंकी गई है।

जब्‍त संपत्तियां बच्चा राय, उसकी पत्नी, पिता, भाई और भाई की पत्नी के नाम पर हैं। इनमें हाजीपुर में जमीन और मकान, भगवानपुर में 13 प्लॉट व मकान, टेहरीकलां में 11 प्लॉट और पातेपुर में दो प्लॉट शामिल हैं। बच्चा राय की दो संपत्तियां पटना और झारखंड के सरायकेला में हैं। दोनों जगह मकान हैं। फिलहाल इन्‍हें ईडी ने कब्जे में नहीं लिया है।

Source: Muzaffarpur Now

Leave a Reply

Your email address will not be published.