भागलपुर में शख्स ने दिखाया सिस्टम को आइना: कड़ाके की ठंड में नाले के गंदे पानी से बीच सड़क पर किया स्नान

खबरें बिहार की जानकारी

कड़ाके की ठंड और गंदा पानी, सोमवार को सुनील चौधरी नाम के एक शख्स ने सिस्टम को आइना दिखाने के लिए सड़क पर जमा पानी से स्नान करना शुरू कर दिया। विरोध दर्ज कराते हुए सुनील डिब्बे में सड़क पर जमा गंदा पानी भरता और सिर से इसे उड़ेल, जोर-जोर से गाना गाने लगता। इस अनोखे विरोध प्रदर्शन का उद्देश्य समस्या को जिम्मेदार पदाधिकारियों तक पहुंचना हो त्वरित निदान कराना रहा। सुनील का समर्थन स्थानीय लोगों ने भी किया।

समस्या के बारे में बताते हुए लोगों ने कहा कि चार महीने से कुतुबगंज से वारसलीगंज मार्ग में नाले का गंदा पानी जमा है। इसके लिए कई बार नगर निगम में आवेदन दिया गया है, लेकिन अब तक सिर्फ आश्वासन मिला। काम कुछ नहीं हुआ। शहर का दक्षिणी क्षेत्र बदहाल ड्रेनेज सिस्टम के आगे बदहाल है। जल निकासी के लिए फिलहाल समुचित योजना नहीं बनाई गई है। जलजमाव के चलते कीचड़ की समस्या से लोग परेशान हैं।

नगर निगम में जहां मेयर व डिप्टी मेयर पदग्रहण कर रहे थे, वहीं वारसलीगंज में स्थानीय लोगों का दर्द बयां कर रहे थे, क्योंकि वह चार माह से लगातार अपनी समस्या से निगम को रू-ब-रू करवा रहे थे। इस मार्ग में कई स्कूल, मंदिर पड़ते हैं। हर रोज श्रद्धालु गंदे पानी से होकर पूजा करने जाते हैं, तो वहीं काम-धंधे पर जाने वाले लोगों को भी खासा परेशानी का सामना करना पड़ता है।

स्थानीय लोगों की मानें तो जलजमाव के चलते ही इलाके में मच्छरों का प्रकोप भी बढ़ा है। गंदगी और बदबू ने जीना दुश्वार कर रखा है। वारसलीगंज से कुतुबगंज मार्ग में जलनिकासी की समस्या से 20 हजार लोगों का आवागमन प्रभावित हुआ है। कई गलियों के छोटे-बड़े नाले का निकास प्रभावित हुआ है। बताया गया कि नालों पर लंबे समय से सफाई नहीं हुई है। गाद से पटे नालों से पानी निकलकर सड़क पर जमा हो रहा है। इससे जलभराव की स्थिति है।

इधर, सोमवार को पार्षद पंकज कुमार गुप्ता, शशि मोदी, पूर्व पार्षद दीपक साह ने नगर आयुक्त से मिलने पहुंचे। उन्हें समस्या से भी अवगत कराया। इसके बाद नगर आयुक्त ने स्वास्थ्य शाखा प्रभारी को एक सप्ताह में सघन अभियान चलाकर जलजमाव की समस्या के निदान का निर्देश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.