बेटी ने कहा, खाना बनने में थोड़ी देर है, सिवान में पिता ने यह सुनकर जो किया, जानकर स्‍तब्‍ध हो जाएंगे आप

जानकारी

पिता अपनी बेटी के लिए जान भी दे देता है। लेकिन सिवान में एक पिता ऐसा निकला जिसने बेटी की जान ही ले ली। वह भी उस बेटी की जो उसकी देखभाल करती थी। हैरान करने वाली यह घटना सिवान के गुठनी थाना क्षेत्र के भलुई गांव की है। यहां बुधवार की शाम एक किशोरी की हत्या उसके पिता ने गला दबाकर कर दी। भोजन के लिए पूछने पर महज 14 साल की श्वेता ने पिता को थोड़ी देर ठहरने को कहा था। इतने में पिता आगबबूला हो गया और उसकी पिटाई करने लगा। वह इतने पर नहीं ठहरा और गला दबाकर मार डाला। आरोपित भागा नहीं और तरह-तरह के ढोंग करने लगा। इधर, चीख-पुकार सुन आसपास के लोग जुट गए। जमीन पर उसका शव पड़ा देख इसकी सूचना पुलिस को दे दी। थोड़ी देर में पुलिस पहुंची और आरोपित पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए थाना लाई। शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

ग्रामीणों ने कहा-इसी तरह अपने बेटे को भी मार डाला था 

मां के निधन के बाद पिता विनोद गोंड की देखरेख वही किया करती थी। ग्रामीणों की मानें तो विनोद ने कुछ वर्ष पहले इसी तरह अपने बेटे को मार डाला था और अब बेटी की भी हत्या कर दी। विनोद की बड़ी बेटी प्रेम विवाह कर ससुराल में रहती है। पत्नी के निधन के बाद से ही वह मानसिक रूप से बीमार हो गया था। थानाध्यक्ष अभिमन्यु कुमार ने बताया कि विनोद पूछताछ में सही तरीके से जवाब नहीं दे रहा है। उसकी बातें सनकी की तरह हैं। कभी कह रहा है कि मेरा दिमाग खराब हो गया है। कभी कह रहा है कि मुझे नींद आ रही है। इसे चिकित्सक से दिखाया जाएगा।

इधर घटना के बाद से लोग सकते में हैं। उनका कहना है कि इतनी छोटी सी बात पर कोई हत्‍या कर दे, यह अत्‍यंत आश्‍चर्यजनक है

Leave a Reply

Your email address will not be published.