बिहार में ऐसे चल रहा नशे का कारोबार, पौने 2 करोड़ का प्रतिबंधित कफ सिरप बरामद

राष्ट्रीय खबरें

गोपालगंज में उत्पाद विभाग की टीम ने वाहन जांच के दौरान 900 कार्टन प्रतिबंधित कफ सिरप बरामद किया है. बिहार में सरकार द्वारा की गई शराबबंदी के बावजूद नशे का कारोबार लगातार जारी है. बरामद किए गए कफ सिरप की कीमत करीब 1 करोड़ 80 लाख रुपये आंकी गयी है. पुलिस ने इस मामले में एक तस्कर को भी गिरफ्तार किया है. यह कार्रवाई कुचायकोट के बल्थरी चेक पोस्ट पर की गई है. गिरफ्तार किया गया तस्कर पंजाब के मोहाली के जिगतार सिंह बताया जा रहा है.

इस प्रतिबंधित कफ सिरप की तस्करी पंजाब के चंडीगढ़ से पश्चिम बंगाल के कोलकाता के लिए की जा रही था. यह कारवाई उत्पाद विभाग के टीम ने कुचायकोट के जलालपुर बलथरी चेक पोस्ट पर की है. उत्पाद निरीक्षक प्रकाश चंद्र ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि उत्तर प्रदेश की सीमा से पंजाब नंबर के ट्रक में भारी मात्रा में अवैध सामान लाया जा रहा है. सूचना के आधार पर उत्पाद विभाग की टीम ने उत्तर प्रदेश की तरफ से आने वाले वाहनों की सघन तलाशी शुरू कर दी. इसी दौरान पंजाब नंबर के ट्रक को रोककर जब पुलिस ने उसकी सघन तलाशी की तो ट्रक में 900 कार्टन प्रतिबंधित फेंसिडिल कफ सिरप बरामद किया गया.

बरामद किए गए कफ सिरप की बाजार में कीमत करीब 01 करोड़ 80 लाख रुपये आंकी गयी है. औषधि निरीक्षक अनिता कुमारी द्वारा पुष्टि के बाद पुलिस ने ट्रक चालक को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में यह बात सामने आई की जब्त की गई प्रतिबंधित कफ सिरप पंजाब के चंडीगढ़ से लाई जा रही थी. इसे पश्चिम बंगाल के कोलकाता पहुंचाना था. गिरफ्तार किया गया तस्कर पंजाब के मोहाली का जिगतार सिंह बताया जा रहा हैं. उत्पाद विभाग ने संबंधित धाराओं में प्राथमिकी दर्ज करने के बाद गिरफ्तार तस्कर से पूछताछ की और उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है. बता दें कि इसके पूर्व भी गोपालगंज पुलिस द्वारा प्रतिबंधित कफ सिरप को जब्त किया गया था, जो यूपी के गोरखपुर से बंगाल भेजी जा रही थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.