बच्चों को मिल रहा था अधपका खाना, छात्रों और अभिभावकों ने मीटिंग के दौरान स्‍कूल में किया हंगामा

खबरें बिहार की जानकारी

प्रखंड क्षेत्र के घाट रोड स्थित दरबारी सिंह मध्य विद्यालय में म‍िड-डे मील में अधपका खाना मिलने से बच्‍चों के नाराज परिजनों ने स्‍कूल में हंगामा कर दिया।

स्‍कूल में चल रही थी मीटिंग, खाने में गड़बड़ी मिली तो हुआ हंगामा

दरअसल, रोजाना की तरह गुरुवार को भी बच्चों के लिए मिडडे मील तैयार किया गया था। ठीक उसी समय 11:00 बजे अभिभावकों के साथ विद्यालय समिति प्रबंधन की बैठक भी विद्यालय परिसर में चल रही थी। उसी क्रम में बच्चों को खाना खिलाया जा रहा था।

बच्चों की थाली में खाना परोसा गया तो चावल पूरी तरह से पका नहीं था। कच्चे चावल को देखकर स्कूल के छात्र-छात्राएं हंगामा करने लगे। इस दौरान बैठक में उपस्थित अभिभावकों ने बच्चों की थाली में परोसा हुआ चावल देखा तो चावल अधपका पाया। ऐसा देखते ही अभिभावक आक्रोशित हो गए और विद्यालय परिसर में हंगामा शुरू कर दिया। हंगामा होता देख आसपास के लोग भी जुट गए और स्कूल में जमकर बवाल काटा।

छात्रों की यह शिकायत

कक्षा-8 का छात्र अंशु, आनंद, सोनू, आरती आदि ने बताया कि खाना सही नहीं बनने के कारण हम लोग घर जाकर खाते हैं। वहीं, कक्षा दो के छात्र हरिओम कुमार, अमन कुमार, इंद्रजीत कुमार, खुशी कुमारी ने बताया कि चावल कभी गीला तो कभी कच्चा, दाल पानी की तरह और जो सब्जी दी जाती है वह भी कच्ची रहती है।

अभिभावकों का यह कहना

अभिभावक बेबी देवी ने बताया कि खाना में लगातार शिकायतें आ रही हैं। इसके बावजूद प्रधानाध्यापक के द्वारा कोई पहल नहीं की जा रही है। खाना में कभी कीड़ा निकल आता है तो कभी चावल कच्चा रह जाता है। इसके कारण बच्चे घर में जाकर खाना खाते हैं। गोपाल गेट निवासी रम्मी कुमारी ने बताया कि मेरे भी दो बच्चे स्कूल में पढ़ते हैं बच्चों द्वारा लगातार खाना का शिकायत घर के अभिभावकों से किया जाता है।

इस संदर्भ में कई बार प्रधानाध्यापक को जानकारी भी दी गई लेकिन स्थिति जस की तस बनी रही। स्कूल में शिक्षक के लिए अलग से खाना बनाया जाता है लेकिन विद्यार्थियों को जैसे-तैसे खाना बनाकर खिला दिया जाता है। गांव के लोगों ने आरोप लगाया कि विद्यालय में अक्सर बच्चों को मेन्यू के अनुसार भोजन नहीं मिलता है। ऐसे मध्याह्न भोजन बनाने वाले रसोइया को जल्द से जल्द बदला जाए।

प्रधानाध्यापक बोले- रसोइया पर होगी कार्रवाई

पूरे मामले पर विद्यालय के प्रधानाध्यापक कुमार दीपक ने बताया कि रसोइया की गलती के कारण चावल कच्चा रह गया। पूर्व में भी रसोइया की शिकायत आई थी। समझाने के बावजूद रसोइया बराबर गलती कर रही हैं। ऐसी स्थिति में रसोइया पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.