बच्चों के विवाद में रोड़ेबाजी, दर्जन भर से अधिक बाइक ईंट-पत्थर से कूचे; महिलाएं ने भी मचाया उत्पात

खबरें बिहार की जानकारी

गर्दनीबाग थाना क्षेत्र के जोगिया टोला में शनिवार की देर रात बच्चों के विवाद से दो पक्षों में तनाव उत्पन्न हो गया, जिसके बाद असामाजिक तत्व ईंट-पत्थर चलाने लगे। इस दौरान उन्होंने मोहल्ले में सड़क किनारे खड़ी आधा दर्जन बाइक क्षतिग्रस्त कर दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। दो लोगों को हिरासत में लिया गया। उनसे पूछताछ की जा रही है। थानाध्यक्ष रंजीत कुमार रजक ने बताया कि सभी एक ही मोहल्ले के रहने वाले हैं। उपद्रवियों की पहचान की जा रही है।

बताया जाता है कि किसी बात को लेकर बच्चों में विवाद हो गया था। उन्होंने इसकी शिकायत अपने-अपने घरों में की, जिसके बाद परिवार के सदस्य एक-दूसरे से झगड़ने लगे। शनिवार की रात करीब साढ़े 11 बजे शोर-शराबे के बीच कुछ असामाजिक तत्व घुस गए और उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। इसके बाद मोहल्ले में अफरातफरी मच गई। लोग घरों में दुबक गए। उपद्रवियों ने इसका जमकर फायदा उठाया। उन्होंने घरों के बाहर सड़क पर लगी बाइक को ईंट-पत्थर से कूच दिया। इस बीच स्थानीय लोगों ने पुलिस को खबर दी। पुलिस की गाड़ी आता देख उपद्रवी भागने लगे। तभी जवानों ने दो संदिग्धों को खदेड़ कर दबोच लिया। विवाद का कारण अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है।

उपद्रवियों में महिलाएं भी शामिल

जोगिया टोली निवासी प्रिंस कुमार ने थाने में लिखित शिकायत की है। उनका आरोप है कि देर रात 25-30 की संख्या में उपद्रवी मोहल्ले में प्रवेश कर गए थे। उन्होंने जमकर उत्पात मचाया। एक दर्जन से अधिक वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। घरों पर भी ईंट-पत्थर फेंके गए। कई लोगों के घरों की खिड़की और दरवाजे भी टूट गए। उपद्रवियों में महिलाएं भी शामिल थीं। उन्होंने महिला-पुरुष मिलाकर आठ उपद्रवियों के नाम दिए हैं। उपद्रवी हाथ में लाठी-डंडे और गड़ासा लेकर आए थे। वारदात का सीसीटीवी फुटेज भी तेजी से प्रसारित हो रहा है।

महिलाओं का आरोप, शराब के नशे में धुत थे उपद्रवी

जोगिया टोला में रहने वाली महिलाओं का आरोप है कि उपद्रवी मुसहर टोली के रहने वाले थे। सभी शराब के नशे में धुत थे। विवाद का कारण यह है कि रात में दुकान के पास एक बच्चे को पीटा जा रहा था। जोगिया टोली में रहने वाले एक परिवार का बच्चा उसे छुड़ाने गया तो चार-पांच युवकों ने मिलकर उसकी पिटाई कर दी। इस पर मोहल्ले के लोगों ने विरोध जताया तो बड़ी संख्या में उपद्रवियों ने धावा बोल दिया और उत्पात मचाने लगे। महिलाओं का आरोप है कि आए दिन पियक्कड़ रात के वक्त मोहल्ले से गुजरते हैं। टोकने पर गाली-गलौज करने लगते हैं। जब उन्हें पकड़ने जाते हैं तो बाईपास के रास्ते भाग निकलते हैं। महिलाओं ने मोहल्ले की युवतियों से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.