खत्म हुआ बिहार में बालू संकट, नीतीश सरकार ने हटाया प्रतिबंध, कल से होगा बालू का खनन

खबरें बिहार की

पटना: बिहार के लोगों के लिए और हजारों लाखों मजदूरों के लिए खुशखबरी है। बताया जा रहा है कि अब बिहार में बालू संकट समाप्त हो गया है। नीतीश सरकार ने बालू पर लगे प्रतिबंध को हटा दिया है। कल सुबह से बालू घाटों पर खनन का काम शुरू हो जाएगा। ताजा अपडेट के अनुसार अब लोगों को बालू के लिए अधिक परेशान नहीं होगा। सरकारी रेट पर आसानी से बालू उपलब्ध हो सकेगा।

बताते चले कि राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण द्वारा गत पहली जुलाई से तीन महीने के लिए नदियों से खनन पर प्रतिबंध लगा दिया था। यह अवधि रविवार को समाप्त हो गई। खनन शुरू होने से निर्माण कार्यों को भी गति मिलेगी। बालू की कीमतें कम होने से सामान्य खरीदारों को भी राहत मिलेगी। जानकार सूत्रों के मुताबिक सोमवार से राज्य के 502 से अधिक घाटों पर एक साथ खनन शुरू हो जाएगा। खान एवन भूतत्व विभाग ने भी उम्मीद जतायी है कि खनन शुरू होने से बालू की कीमतें पूर्व की भांति तीन हजार रुपए प्रति सौ घनफुट पर आ जाएंगी। कारण बालू की उपलब्धता बढ़ने से पूर्व से भंडारित बालू की कीमतें भी गिर जाएंगी। बालू का कारोबार करने के लिए 1072 लोगों को लाइसेंस दिए गए हैं। इनमें पटना जिले में 83, गया में 92 और औरंगाबाद में 72 लोगों को अनुज्ञप्ति मिली है।

बालू माफिया के आगे बौना साबित हो रही पटना पुलिस, हथियार छीन कर पहले बनाया बंधक, फिर जमकर पीटा ; बालू माफिया के आगे पुलिस बौनी साबित हो रही है। या यूं कहें कि बालू माफिया के सामने पुलिस की एक नहीं चलती। शनिवार को इसकी बानगी देखने को मिली। दीघा थाना इलाके में अवैध रूप से बालू लदी नाव को जब्त करने पहुंचे सैप के जवानों को बालू माफिया ने बंधक बनाकर जमकर पिटाई कर दी।

ताजा अपडेट के अनुसार राजधानी पटना में अवैध बालू उत्खनन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने गयी पुलिस पर माफियाओं ने हमला बोल दिया। इस दौरान माफियाओं ने पुलिस के हथियार छीन लिए और फायरिंग भी की। घटना के बाद से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। वहीं इस दौरान पुलिस कर्मी भी घायल हो गए।

Source: Live Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *