बीएड शिक्षकों के लिए खुशखबरी, मानदेय में 20% की बढ़ोतरी, इस तारीख से प्रभावी होगा फैसला

खबरें बिहार की जानकारी

पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय (पीपीयू) की 17वीं सिंडिकेट बैठक शुक्रवार को कुलपति प्रो. आरके सिंह की अध्यक्षता में हुई। इसमें 16वीं अभिषद् (सिंडिकेट), 14वीं वित्त समिति, 14वीं एएनटीपीसी एवं 11वीं अकादमिक परिषद की अनुशंसाओं को स्वीकृति प्रदान की गई। शिक्षकेत्तर कर्मियों को प्रोन्नति की प्रभावी तिथि से स्वीकृति प्रदान की गई, वेतन का भुगतान सरकार से आवंटन प्राप्त होने के उपरांत किया जायेगा।

पीपीयू के कालेजों में बीएड के शिक्षकों के मानदेय में 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी को स्वीकृत किया गया। इसको लेकर शिक्षकों में काफी उत्साह का माहौल है। शिक्षक काफी दिनों से इस फैसले का इंतजार कर रहे थे। विश्वविद्यालय में यह मामला पहले से लंबित था। प्रायोगिकी परीक्षकों के मानदेय में भी बढ़ोतरी को अनुशंसा प्रदान की गई। अभिषद् सदस्य प्रो. राजेन्द्र गुप्ता ने भौतिकी तथा अर्थशास्त्र विषय में प्रोफेसर पद पर प्रोन्नति का प्रश्न उठाया।

सदस्यों ने निर्णय लिया कि चयन समिति की अनुशंसाओं एवं निर्धारित विनियमों के आलोक में न्यूनतम एक पीएचडी प्रोड्यूस करने के बाद ही प्रोफेसर पद पर प्रोन्नति प्रदान की जायेगी। बैठक में प्रो. रेखा कुमारी, निदेशक, उच्च शिक्षा, प्रति कुलपति प्रो. गणेश महतो, प्रो. दीपिका गौतम, प्रतिभा सिंह, डीएसडब्ल्यू प्रो. एके नाग, डा. रामकिशोर सिंह, प्रो. रिमझिम शील, कुलानुशासक डा. मनोज कुमार, सीसीडीसी डा. मणिबाला, टीपीएस कालेज के प्राचार्य प्रो. उपेंद्र प्रसाद सिंह, परीक्षा नियंत्रक डा. महेश मंडल, कुलसचिव डा. जितेन्द्र कुमार आदि मौजूद थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.