B.Ed Bihar

जरुरी खबर- पटना ट्रेनिंग और वीमेंस ट्रेनिंग कॉलेज की मान्यता रद्द, बीएड कोर्स से पहले जरूर पढ़ें ये खबर

खबरें बिहार की

नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (एनसीटीई) की इस्टर्न रीजन काउंसिल (ईआरसी) ने राजधानी समेत राज्य के विभिन्न जिलों में स्थित 9 बीएड कॉलेजों की मान्यता रद्द कर दी है। इससे आगामी सत्र (2018-19) से नालंदा ओपेन यूनिवर्सिटी, मगध यूनिवर्सिटी के शिक्षा संकाय समेत ऐसे अन्य कॉलेजों में बीएड की पढ़ाई बंद हो जायेगी।

 

इसके अलावा काउंसिल ने राज्य भर के 7 बीएड कॉलेजों को शोकॉज नोटिस जारी करते हुए 21 दिनों के अंदर जवाब तलब किया है जबकि 26 कॉलेजों द्वारा मान्यता अथवा बीएड या डीईएलईडी कोर्स शुरू करने के लिए दिये गये आवेदनों को अस्वीकृत कर दिया है।

पिछले 8-9 अक्तूबर को ओड़िशा के भुवनेश्वर में चेयरमैन डॉ शुक्ला मोहंती की अध्यक्षता में हुई काउंसिल की 244वीं बैठक में बिहार समेत अन्य राज्यों में स्थित बीएड कॉलेजों से जुड़े एजेंडे पर विस्तृत विमर्श करते हुए इस तरह के कई अहम निर्णय लिये गये।

B.Ed Bihar

समय मिलने के बाद भी नहीं पूरी की गयीं शर्तें : काउंसिल की ओर से बताया गया है कि जिन कॉलेजों की बीएड की मान्यता रद्द की गयी है, उनमें कुछ को वर्ष 2013, कुछ को 2014 व कुछेक को 2015 में नोटिस दिया गया था।

इसके बावजूद कॉलेजों ने अब तक न तो स्थायी रूप से शिक्षकों की नियुक्ति की है और न ही नोटिस का समुचित जवाब दिया है। इस कारण अंतत: आगामी शैक्षणिक सत्र से मान्यता रद्द करने का निर्णय लिया गया। हालांकि मान्यता को लेकर संबंधित विश्वविद्यालय व कॉलेज अपील कर सकते हैं।

सात को शोकॉज, 26 के अनुमति-मान्यता संबंधी आवेदन अस्वीकृत

इन कॉलेजों की रद्द हुई मान्यता

पटना ट्रेनिंग कॉलेज, बांकीपुर, वीमेंस ट्रेनिंग कॉलेज, पटना, डायरेक्टरेट ऑफ डिस्टेंस एजुकेशन, एलएन मिथिला यूनिवर्सिटी, दरभंगा, कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय, दरभंगा, मगध यूनिवर्सिटी शिक्षा संकाय, बोध गया, अल-मोमिन कॉलेज ऑफ एजुकेशन, गया, वीरायतन बीएड कॉलेज, नालंदा, नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी, पटना, वीर कुंवर सिंह यूनिवर्सिटी, आरा।

इन कॉलेजों को शोकॉज नोटिस

कटिहार टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज, कटिहार
एलके मिश्र कॉलेज ऑफ एजुकेशन, दरभंगा
कमला भुवनेश्वर बीएड कॉलेज, बेगूसराय
डॉ सीवी रमन इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन, वैशाली
गुरु द्रोण टीचर ट्रेनिंग कॉलेज, खगड़िया

पटना इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन, पूर्वी चंपारण
मगध टीचर ट्रेनिंग बीएड कॉलेज, औरंगाबाद
इन कॉलेजों के डीएलईडी व बीएड के आवेदन अस्वीकृत
प्रकाश बीएड टीचर ट्रेनिंग कॉलेज, सारण
मिर्जा गालिब टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज, पटना

रमाकांत सिंह कॉलेज ऑफ एजुकेशन, शेखपुरा
चाणक्य कॉलेज ऑफ एजुकेशन, बक्सर
शिवम टीचर ट्रेनिंग कॉलेज, पटना
लीलावती कॉलेज, पटना
यूनिक टेक्निकल एंड प्रोफेशनल स्टडी इंस्टीट्यूट, सारण

नालंदा शिक्षक प्रशिक्षण, नालंदा
मथुराम कॉलेज ऑफ एजुकेशन, पटना
शारदा गिरिधारी केशरी कॉलेज, खगड़िया
शिवेश शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान, सारण
अल-मोमिन कॉलेज ऑफ एजुकेशन, गया
श्री नित्यानंद झा कॉलेज ऑफ एजुकेशन, मधुबनी

ताबह बीएड कॉलेज, पूर्णिया
निजामिया कॉलेज ऑफ एजुकेशन, पटना
विट्ठल कॉलेज ऑफ एजुकेशन, पटना
निर्मला कॉलेज ऑफ एजुकेशन, पटना
लक्ष्मी नारायण दूबे कॉलेज, पूर्वी चंपारण
मां जानकी चतुर्भुज दूधानी मेमोरियल टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज, सीतामढ़ी

डॉ विजय शंकर राय कॉलेज ऑफ एजुकेशन, गया
महात्मा गांधी शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, बांका
सिंधु कॉलेज ऑफ एजुकेशन, बांका
नगीना देवी टीचर्स ट्रेनिंग कॉलेज, जहानाबाद

भगवान बुद्धा प्राइमरी टीचर्स एजुकेशन, सिवान
राधा कृष्णा सिकारिया एजुकेशन इंस्टीट्यूशन, पूर्वी चंपारण
वीरायतन बीएड कॉलेज, नालंदा

B.Ed Bihar

संसाधनों की कमी व नोटिस का जवाब नहीं मिलने पर हुई कार्रवाई

एनसीटीई की गाइडलाइन के अनुसार कॉलेजों में संसाधनों की उपलब्धता अनिवार्य है। तभी गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण दे कर योग्य शिक्षक तैयार किये जा सकते हैं।

संसाधनों की कमी व पूर्व में दिये गये नोटिस का जवाब नहीं मिलने संबंधी मसलों पर विचार-विमर्श के बाद आगामी सत्र के लिए मान्यता रद्द करने का निर्णय लिया गया है। इसके अलावा कई कॉलेजों को शोकॉज किया गया है। अभी ऐसे और भी मामले हैं, जिन पर अगली बैठक में विमर्श किया जायेगा।

डॉ शुक्ला मोहंती, चेयरमैन, एनसीटीई-ईआरसी, भुवनेश्वर

Leave a Reply

Your email address will not be published.