बिहारी जूनून- बच्चे ने फ्यूज बल्ब और जूते के डब्बे से मिनी प्रोजेक्टर बना दिया

कही-सुनी

 

आयुष के माता-पिता का कहना है कि आयुष हमेशा कुछ न कुछ नया करने का सोचता रहता है और बड़ा होकर वैज्ञानिक बनना चाहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.