अस्पताल में शार्ट सर्किट से लगी आग, डॉक्टर ने टार्च की रोशनी में की गर्भवती महिला की सफल सर्जरी

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार के बांका जिले में स्थित अमरपुर रेफरल अस्पताल में सोमवार को शार्ट सर्किट से आग लग गई, इस वजह से कुछ समय के लिए मरीजों में अफरातफरी मच गई। अस्पताल कर्मियों ने अपनी हिम्मत दिखाई तथा किसी प्रकार आग पर काबू पाया गया। बाद में सभी मरीजों को शांत कराया गया।

जानकारी के अनुसार, अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर के समीप गलियारे में दोपहर में अचानक धुआं उठने लगा तथा आग की लपटें दिखाई पड़ी। इससे अस्पताल में मौजूद मरीजों के बीच अफरातफरी मच गई तथा सभी अस्पताल से बाहर भागने लगे। अस्पताल में धुआं फैलते ही वार्ड में भर्ती मरीजों के अलावा आउटडोर में बड़ी संख्या में आए मरीज इधर उधर भागने लगे तथा लोगों में दहशत का माहौल बन गया।

शार्ट सर्किट की सूचना मिलने पर अस्पताल प्रबंधक सुनील कुमार चौधरी ने परिसर में लगे ट्रांसफार्मर से बिजली कटवाई तथा फायर इंस्टीग्यूसर की मदद से आग पर काबू पाया। इधर अस्पताल प्रबंधक ने कहा कि शार्ट सर्किट के कारणों का पता लगाया जा रहा है तथा जल्द ही अस्पताल में नये सिरे से बिजली की वायरिंग कराई जाएगी।

अगलगी के बीच डॉक्टर ने टार्च की रोशनी में की गर्भवती महिला की सफल सर्जरी
अमरपुर रेफरल अस्पताल में सोमवार को शार्ट सर्किट से आग लगने की घटना के बीच ऑपरेशन थियेटर में डॉ. दीप्ति सिन्हा ने एक गर्भवती महिला का सफल ऑपरेशन किया। जच्चा एवं बच्चा दोनों सुरक्षित हैं। डॉक्टर के इस कार्य की चारों ओर सराहना हो रही है। अमरपुर रेफरल अस्पताल में शार्ट सर्किट से जिस वक्त आग लग गई थी, ठीक उसी समय डॉक्टर एक प्रसव पीड़ित महिला गोपालपुर गांव की डोली कुमारी का ऑपरेशन करने की तैयारी कर रही थी।

आग लगने के बाद पूरे अस्पताल में धुआं भर गया तथा बिजली कट गई। कुछ लोगों ने डॉक्टर को फिलहाल ऑपरेशन रोक देने का आग्रह किया लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इंकार कर दिया। उनके द्वारा टार्च एवं मोबाइल की रोशनी में सफल ऑपरेशन किया तथा जच्चा एवं बच्चा दोनों स्वस्थ हैं।

डॉ. दीप्ति सिन्हा ने कहा कि उन्होंने कुछ विशेष नहीं किया सिर्फ अपना कर्तव्य पूरा किया है। यदि समय पर उस समय महिला का ऑपरेशन नहीं किया जाता तो उनके लिए खतरा बढ़ सकता है। रेफरल प्रभारी डॉ सुनील कुमार चौधरी ने भी कहा कि डॉ. दीप्ति सिन्हा एवं डॉ. रायबहादुर इस काम के लिए धन्यवाद के पात्र हैं।

शॉर्ट सर्किट से किराना दुकान में लगी आग
फुल्लीडुमर प्रखंड के कैथा गांव में बीती देर रात बिजली के शार्ट सर्किट से एक किराना दुकान में आग लग गई। जिसमें गुलशन कुमार नामक युवक का आग बुझाने के दोनों दोनों पैर झुलस कर जख्मी हो गया। जिसे इलाज के लिए परिजनों ने फुल्लीडुमर अस्पताल में भर्ती कराया। उक्त घटना में किराना दुकान के 30 हजार रुपये से ज्यादा का सामान जलकर राख हो गया। आग लगने के बाद परिजनों एवं ग्रामीणों के प्रयास से आग पर काबू पाया गया। उक्त घटना में आग से झुलसे गुलशन को इलाज के बाद डॉक्टर ने अस्पताल से छुट्टी दे दी है।

आग लगने से एक घर जलकर राख
धनकुंड थाना क्षेत्र अंतर्गत अलालकित्ता गांव में सोमवार की दोपहर अचानक आग लग जाने से गांव निवासी पप्पू दास का घर जलकर राख हो गया। घर में आग लगने के कारण का पता नही चल पाया। मालुम हो की सोमवार की दोपहर पप्पु दास के घर से आचानक आग की लपटे निकलता देख ग्रामीण घर की ओर दौड़े और आग बुझाने का प्रयास किया जाने लगा। ग्रामीणों के द्वारा जबतक आग पर काबू पाया जाता तबतक घर में रखें सारा समान अनाज कपड़ा जलकर राख हो गया।

आग लगने के कारण घर व सामान जल जाने के कारण इस भीषण धुप में खुले आसमान के नीचे रहने को विवश है। वही आग लगने की जानकारी पाते ही पंचायत के सरपंच उमाशंकर ठाकुर ने पहुंच आग लगने की जानकारी सीओ को दिया। जहां सीओ ने जांच कर अग्नि पीड़ित को अविलंब सहायता देने का आश्वासन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.