अस्पताल के पास बेहोशी की हालत में विवाहिता को छोड़कर भागे घरवाले, पारिवारिक विवाद में खा लिया था जहर

खबरें बिहार की जानकारी

सोमवार की देर शाम अनुमंडल अस्पताल के गेट पर मानवता को शर्मसार करने वाली एक घटना घटित हुई। जहां अज्ञात आटो पर सवार कुछ लोगों ने अचेतावस्था में एक विवाहिता को छोड़कर भाग खड़े हुए। इसके बाद अस्पताल के समीप रहे लोगों एवं अस्पताल कर्मियों द्वारा उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मौके पर मौजूद डा. राजेश ने महिला का इलाज शुरू किया। होश आने पर विवाहिता ने अपना नाम सुनीता कुमारी पिता का नाम नरेश दास और घर कोंच थाने के कनौदी में होने की जानकारी दी। चिकित्सक के इलाज के बाद विवाहिता की हालत में सुधार है। विवाहिता ने बताया कि उसने पारिवारिक विवाद के कारण से जहर खा लिया था।

काफी देर इंतजार के बाद भी नहीं आई पुलिस

सुनीता पंचानपुर स्थित एक कपड़े की दुकान में कार्य करती है और लभरा गांव में किराए के मकान में रहती है। घटना की जानकारी अस्पताल प्रशासन द्वारा टिकारी थाना की पुलिस को दी गई, लेकिन जानकारी देने के घंटों बाद पुलिस नहीं पहुंची।

डा. राजेश कुमार ने बताया कि मरीज के मुंह से कोई स्मेल नहीं आ रही है। जांच के बाद ही कुछ स्पष्ट हो सकेगा। अस्पताल में मौजूद कर्मी रुंजय कुमार, धर्मेंद्र कुमार आदि ने स्वजन के आने तक इलाजरत सुनीता की सहायता करते देखे गए। घटना की सूचना के बाद उप मुख्य पार्षद सागर दिवान अस्पताल पहुंचकर महिला का हालचाल जाना। अस्पताल कर्मियों द्वारा उसके स्वजनों को सूचना दे दी गई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.