लखीसराय में अशोक धाम महोत्सव की तैयारियां अपने अंतिम चरण में

आस्था

लखीसराय स्थित प्रसिद्ध श्री इंद्रदमनेश्वर महादेव मंदिर अशोकधाम में पहली बार आयोजित किये जा रहे अशोकधाम महोत्सव को लेकर तैयारियां जोर शोर से चल रही है। अशोकधाम मंदिर में स्थापित विशाल शिवलिंग के प्रकटीकरण के 41वें वर्ष के उपलक्ष्य में यह महोत्सव किया जा रहा है। 16 से 26 अप्रैल तक चलने वाले महोत्सव के दौरान श्री श्री 1008 एकादश कुंडीय महारुद्र यज्ञ का भी आयोजन किया जा रहा।

अशोकधाम मंदिर के बगल में विशाल यज्ञ मंडप का निर्माण कार्य चल रहा है। एकादश कुंडीय महारुद्र यज्ञ को लेकर 15 अप्रैल को सुबह 8 बजे लखीसराय के आरके हाई स्कूल मैदान से गाजे-बाजे के साथ विशाल कलश शोभायात्र निकलेगी जिसमें 1008 कुंवारी कन्याएं व महिलाएं कलश लेकर पैदल अशोकधाम तक जाएंगी। शोभायात्रा में अध्यक्ष सह जिलाधिकारी सहित मंदिर ट्रस्ट के सभी पदाधिकारी भाग लेंगे।
16 अप्रैल को वाराणसी के आचार्य पंडित नरेन्द्र ठाकुर की देखरेख में एकादश कुंडीय महारुद्र यज्ञ का शुभारंभ होगा जिसमें 11 यजमान सामूहिक रूप से शामिल होंगे। महायज्ञ के दौरान अशोकधाम मंदिर स्थित विशाल पंडाल में 17 से 23 अप्रैल तक वृंदावन की साध्वी देवी निधि सारस्वत एवं श्री कृष्ण प्रपन्नाचार्य जी महाराज का भागवत कथा होगा। अध्यात्म चैनल पर प्रत्येक दिन दोपहर 2 बजे से शाम 7 बजे तक अशोकधाम से कथा का सीधा प्रसारण किया जायेगा। साथ ही वृंदावन की प्रसिद्ध रासमंडली द्वारा कृष्ण लीला की झांकी व नाट्य मंचन का भी आयोजन होगा।

महायज्ञ के सफल संचालन के लिए मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष सह जिलाधिकारी सुनील कुमार एवं सचिव डॉ. श्याम सुंदर प्रसाद सिंह की देखरेख में कई कमेटी का गठन किया गया है। महोत्सव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व कई मंत्रियों के शामिल होने के लिए कार्यक्रम तय किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.