असमय सफेद होते बालों ने बढ़ाई चिंता, तो नेचुरल डाई के लिए आजमाएं ये नुस्खा

जानकारी

इन दिनों हर कोई सुंदर और जवां दिखना चाहता है। अपनी खूबसूरती बनाए रखने के लिए लोग तरह-तरह के उपाय करते हैं। लोग खुद को बेहतर और जवां दिखाने के लिए कई ब्यूटी प्रोडक्ट्स और ट्रीटमेंट्स का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन कई बार ये प्रोडक्ट्स या ट्रीटमेंट्स आपको मन मुताबिक, परिणाम नहीं दे पाते हैं। साथ ही इनके इस्तेमाल से अक्सर साइड इफेक्ट्स का डर भी बना रहता है। ऐसे में अपनी खूबसूरती बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय काफी कारगर साबित होंगे। इन दिनों लोग असमय सफेद हो रहे बालों की समस्या से काफी परेशान हैं। ऐसे में अगर आप भी इस समस्या से जूझ रहे हैं, तो अपने बालों का रंग वापस पाने के लिए चायपत्ती का इस्तेमाल कर सकते हैं।

सफेद बालों के लिए कारगर चायपत्ती

इन दिनों खराब जीवनशैली और खानपान में लापरवाही की वजह से लोग छोटी उम्र में भी सफेद होते बालों की समस्या से परेशान है। ऐसे में कलर डाइ का इस्तेमाल करना आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है। इसलिए इस समस्या से निजात पाने के लिए चाय की पत्तियां फायदेमंद होंगी। चाय भारत ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में काफी लोकप्रिय और मशहूर है। सेहत को कई तरह के फायदे पहुंचाने वाली चाय आपके बालों का रंग लौटाने में भी मददगार होगी। आप बेहद आसान तरीके से इसका इस्तेमाल कर अपने बालों को रंग कर सकते हैं।

बालों के लिए कैसे फायदेमंद चायपत्ती

चायपत्ती में कई तरह के पोषक तत्व पाएं जाते हैं, जो आपके बालों के लिए काफी फायदेमंद साबित होंगे। दरअसल, चाय की पत्तियों में मौजूद प्राकृतिक काला रंग आपके असमय सफेद हुए बालों को फिर से काला करने में काफी लाभकारी होगा। आप इस आसान तरीके को फॉलो कर इससे अपने बाल हाई कर सकते हैं।

ऐसे में लगाएं बालों में चायपत्ती

  • बालों को रंगने के लिए चायपत्ती को सीधा बालों पर नहीं लगाया जा सकता है। इसलिए इसके लिए चायपत्ती के पानी का इस्तेमाल करें।
  • सबसे पहले एक बर्तन में पानी भरकर इसे अच्छे से उबाल लें।
  • अब इसमें 4 से 5 चम्मच चायपत्ती डालें और फिर 5 मिनट तक उबलने दें।
  • इसे ज्यादा असरदार बनाने के लिए आप चाहें तो इसमें एक चम्मच कॉफी भी मिला सकते हैं।
  • अब इस पानी तो तब तक उबालें, जब तक यह आधा न हो जाए।
  • इसके बाद गैस बंद कर दें और इस मिश्रण को ठंडा होने के लिए छोड़े दें।
  • अब इस पानी से बालों को धोने से फायदा मिलेगा। लेकिन ध्यान रखें कि इस दौरान आप शैंपू का इस्तेमाल न करें।
  • बेहतर परिणाम के लिए आप इस प्रक्रिया को हफ्ते में 2 बार आजमा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.