army rescue operation bihar flood

Army का ‘रेस्कूय ऑपरेशन’ शुरू, बिहार में बाढ़ से खतरनाक हुई स्थिति

खबरें बिहार की

सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ की स्थिति को देखते हुए एनडीआरएफ और army की तैनाती प्रभावित इलाकों में कर दी है। बाढ़ का सबसे ज्यादा प्रभाव सीमांचल इलाके और चम्पारण इलाके में पड़ा है।

 

सीमांचल में लगातार हो रही बारिश से कई इलाकों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गयी है। जिसमें पूर्णिया, कटिहार, अररिया और किशनगंज शामिल है। पूरे सूबे में हाई अलर्ट जारी किया गया है। प्रशासन ने सरकारी कर्मचारियों की छुट्टी रद्द कर दी है। वहीं, सीएम नीतीश कुमार ने आलाधिकारियों के साथ इमरजेंसी बैठक की।

सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ के खतरे को देखते हुए मुख्यमंत्री आवास पर अधिकारियों एवं मंत्री के मीटिंग कर पूरे हालात की जानकारी ली। इसके साथ ही सभी जगहों पर राहत एवं बचाव कार्य पहुंचना के आदेश दिये। इसके बाद सीएम नीतीश ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से बात कर पूरे हालात की दी जानकारी और मदद मांगी।




सीएम नीतीश कुमार ने बाढ़ की स्थिति को देखते हुए एनडीआरएफ और army की तैनाती प्रभावित इलाकों में कर दी है। बाढ़ का सबसे ज्यादा प्रभाव सीमांचल इलाके और चम्पारण इलाके में पड़ा है।

army rescue operation bihar flood




सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि भारी बारिश और नेपाल से छोड़े गए पानी की वजह से ताप्ती और महानंदा नदी का जलस्तर बढ़ गया है। जिसकी वजह से बाढ़ की स्थिति बन गयी है। पूर्णिया में महानंदा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

बाढ़ का पानी अभी और इलाको में तेजी से फैल रहा है। कई स्थानों पर एनएच बंद है, तो कई स्थानों पर रेलमार्ग बाधित हुआ है।




बाढ़ में डूबे बिहार के गांव

बाढ़ में डूबे बिहार के गांव
Katihar: Flood victims move to safer place in Katihar district of Bihar on Sunday. PTI Photo (PTI7_31_2016_000088B)




बाढ़ में डूबे बिहार के गांव Jogbani station bihar



Jogbani station flood bihar



Jogbani station bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.