अरहर, उड़द, मसूर की खरीद सीमा बढ़ाने को मंजूरी, समझें-किसे मिलेगा फायदा

जानकारी

अरहर, उड़द और मसूर के लिए खरीद सीमा बढ़ाने को मंजूरी मिल गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने मंजूरी दी है। वहीं, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 8 रुपये प्रति किलोग्राम की छूट पर 15 लाख टन चना के निपटान को मंजूरी दे दी है ताकि इसका इस्तेमाल अलग-अलग तरह की कल्याणकारी योजनाओं के लिए किया जा सके।

आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मूल्य समर्थन योजना (पीएसएस) और मूल्य स्थिरीकरण कोष (पीएसएफ) के तहत यह मंजूरी दी है। सरकार ने तुअर, उड़द और मसूर के संबंध में पीएसएस के तहत खरीद की मात्रा को मौजूदा 25% से बढ़ाकर 40% करने का भी निर्णय लिया।

बहरहाल, सरकार के ताजा फैसले से राज्य विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं जैसे पीडीएस, मध्याह्न भोजन योजनाओं आदि में चना का उपयोग करने में सक्षम होंगे। किसानों को दालों का लाभकारी मूल्य दिलाने में मदद मिलेगी। यह किसानों को उत्पादन के लिए प्रोत्साहित करेगा। यह हमारे देश में ऐसी दालों की आत्मनिर्भरता प्राप्त करने में भी मदद करेगा।

बता दें कि देश ने पिछले तीन वर्षों के दौरान चना (दाल) का सर्वकालिक उच्च उत्पादन देखा है। भारत सरकार ने मूल्य समर्थन योजना के तहत रबी 2019-20, 2020-21 और 2021-22 के दौरान चना की रिकॉर्ड खरीद की है। इससे सरकार के पास पीएसएस और पीएसएफ के तहत आने वाले रबी सीजन में भी 30.55 लाख मीट्रिक टन चना उपलब्ध है। आगे भी चना का उत्पादन अच्छा होने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.