Indian Idol 11 से बाहर हुए अनु मलिक, आरोपों का राष्ट्रीय महिला आयोग ने लिया संज्ञान, सोनी टीवी से पूछे तीखे सवाल

मनोरंजन

मीटू के आरोपों से घिरे संगीतकार अनु मलिक को सोनी चैनल ने दोबारा सिंगिंग रियलिटी शो ‘इंडियन आइडल-11’ में जज बनकर बुलाया था। इसके बाद गायिका सोना महापात्रा ने अनु मलिक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया और वह लगातार अनु मलिक के खिलाफ लिखती रही। इसके बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने गुरुवार को सोनी टीवी को नोटिस भेजकर इस बारे में जानकारी मांगी हैl राष्ट्रीय महिला आयोग ने इस नोटिस को अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। इसके बाद खबर आई कि अनु मलिक ने ‘इंडियन आइडल-11 शो छोड़ दिया हैंl 

नोटिस में लिखा गया है कि आयोग ने मामले का संज्ञान लेते हुए सोनी एंटरटेनमेंट टीवी को नोटिस भेजा है। नोटिस में गायिका सोना महापात्रा के ट्वीट का भी जिक्र है। चैनल से पूछा गया है कि उसने इस संबंध में क्या कार्रवाई की है? नोटिस सोनी चैनल के प्रेसीडेंट रोहित गुप्ता के नाम पर है।

सोना महापात्रा ने अनु मलिक पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। गुरुवार को ही उन्होंने महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी को लिखे खुले खत में अनु मलिक मामले में दखल देने की गुहार लगाई थी।

मंगलवार को ईरानी ने कहा था कि भारत सरकार यौन अपराधियों का डेटाबेस बना रही है। इस पर सोना ने उनका शुक्रिया अदा करते हुए ऐसे संस्थानों को लेकर सवाल उठाया, जो यौन उत्पीड़न के आरोपियों को काम दे रहे हैं। सोना ने खत में लिखा, ‘यौन अपराधियों का डेटाबेस बनाने की पहल के लिए मैं आपका शुक्रिया अदा करना चाहूंगी। लेकिन उन संस्थानों का क्या, जो आरोपों के बावजूद लोगों को अपने यहां काम दे रहे हैं। इनमें सोनी टीवी भी एक है, जिसने कई महिलाओं के आरोपों को नजरअंदाज करते हुए अनु मलिक को राष्ट्रीय टीवी पर इंडियन आइडल का जज बना दिया।’

सोना ने लिखा, ‘क्या यौन उत्पीड़न ही कहानी बताने वाली कई आवाजें कोई मायने नहीं रखतीं? क्या सोनी टीवी को इसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहराना चाहिए?’ उल्लेखनीय है कि सोशल मीडिया पर अनु मलिक के खिलाफ सोना महापात्रा की मुहिम को नेहा भसीन, श्वेता पंडित, अलिशा चिनाय और अन्य लोगों का समर्थन मिला है। हालांकि हाल में अपनी एक पोस्ट में अनु मलिक ने इन सभी आरोपों को गलत बताया था और क़ानूनी कार्यवाही करने की भी बात कही थीं

Sources:-Dainik Jagran

Leave a Reply

Your email address will not be published.