बिहार को मिला एक और नया यूनिवर्सिटी, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया उद्घाटन, शिक्षकों के लिए खुशखबरी

खबरें बिहार की

पटना: नवगठित पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी का आज पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में भव्य उद्घाटन हुआ, इस समारोह में मुख्य अतिथि बिहार के मुख्यमंत्री श्री नितीश कुमार थे जिनके कर कमलों से ये उद्घाटन संपन्न हुआ.

बिहार में शिक्षकों के लिए खुशखबरी है। जानकारी के मुताबिक बहुत जल्द शिक्षकों को सातवें वेतन आयोग के आधार पर वेतन दे सकती है। पाटलिपुत्र विश्व विद्यालय के उद्घाटन के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस बात के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि  सातवें वेतन आयोग के हिसाव से ही शिक्षकों को वेतन दिया जाएगा। शिक्षा विभाग से कमेटी बनाकर एक रिपोर्ट तैयारी करने का आग्रह किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षक सिर्फ बच्चों और अच्छी शिक्षा स्तर की चिंता करें, उनकी चिंता हम करेंगे। मेरी सभा में पहले शिक्षा काला झंडा दिखाते थे। मगर अब इसकी कोई आवश्यकता नहीं है। विभाग की रिपोर्ट के आधार पर सही फैसला लिया जाएगा। स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड को लेकर नीतीश कुमार ने कहा  कि कर्ज लेकर अगर कोई छात्र इसे चुकाने में असमर्थ हो तो ऐसे छात्रों का कर्ज सरकार माफ करेगी।

पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस विवि को लेकर उनके मन को कई विचार हैं, मगर वह इसे अभी नहीं बताएंगे। वह इस संबंध में पहले वह राज्यपाल से मिलेंगे और सुझाव देंगे। उन्होंने कहा कि पटना का नाम बदलकर पाटलिपुत्र करने की मांग को मैंने ठुकरा दिया था। हमें दो हजार साल पीछे जाने की जरूरत नहीं है। हमने अपने कार्यकाल के दौरान कई विवि की स्थापना की है। इसका मकसद सिर्फ शिक्षा को बढ़ावा देना है।

सीेएम ने नव सृजित पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय की शुरुआत पर नीतीश कुमार ने बधाई दी। उन्होंने कहा कि 2005-06 में  शिक्षा बजट सिर्फ 5 हजार करोड़ के आसपास ही था, मगर अब ये आंकड़ा 25 हज़ार करोड़ का हो गया है। शिक्षा पर इतान खर्च करने के बाद भी विपक्ष हम पर हमला वर है।

Source: Live Bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.