लोकोमोटर नाम की दुर्लभ बीमारी से पीड़ित 15 साल की दसवीं कक्षा की टॉपर स्टूडेंट अनमोल बेरी की डीसी बनने की ख्वाहिश शुक्रवार को फिरोजपुर के डिप्टी कमिश्नर चंद्र गैंद ने इस स्पेशल चाइल्ड को एक दिन का डीसी होने का अहसास करवाकर पूरी की. डिप्टी कमिश्नर अनमोल को लेने के लिए खुद बैंक कॉलोनी स्थित उसके घर पहुंचे और डीसी की सरकारी गाड़ी में बैठाकर उसे प्रशासकीय काम्पलेक्स में लाए. यहां बच्ची के स्वागत के लिए रेड कार्पेट बिछाया गया था, जहां समस्त प्रशासकीय और पुलिस अधिकारियों ने बच्ची को फूलों का गुलदस्ता देकर स्वागत किया.

डिप्टी कमिश्नर ने अनमोल को फिरोजपुर जिले के लिए ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान का ब्रांड एंबेसडर भी नियुक्त करने की घोषणा की. डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि अनमोल एक दुर्लभ बीमारी से पीड़ित है, जिसकी वजह से उसके शरीर का विकास रुक गया है.

अनमोल की लंबाई सिर्फ 2 फुट 8 इंच है, लेकिन पढ़ाई-लिखाई के मामले में उसका कोई मुकाबला नहीं. दसवीं कक्षा में वह 85.6 फीसदी अंकों के साथ टॉपर रही है. 9वीं कक्षा में उसके 95.03 फीसदी अंक थे और अब वह 11वीं कक्षा में आरएसडी राज रत्न पब्लिक स्कूल में पढ़ाई कर रही है. कुछ दिन पहले जब डिप्टी कमिश्नर इस स्कूल में नशे के खिलाफ लेक्चर देने गए थे तो वहां इस बच्ची से मुलाकात की. बच्ची के बारे में पूछने पर कॉलेज प्रिंसिपल ने उसकी दुर्लभ बीमारी के बारे में डीसी को बताया और कहा कि अब तक उसकी चार सर्जरी हो चुकी है.

डीसी ने अनमोल से बातचीत में पूछा कि वह बड़े होकर क्या बनना चाहती है तो उसने कहा कि वह आईएएस पास करके डिप्टी कमिश्नर बनना चाहती है. डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि वह उसे अपने सपने के और करीब ले जाने में मदद कर सकते हैं, जिसके तहत वह उसे एक दिन के लिए डीसी होने का अहसास करवाएंगे और डीसी की तरफ से किए जाने वाले कार्यों को नजदीक से देखने के मौका देंगे. शुक्रवार को डीसी चंद्र गैंद ने अनमोल को एक दिन के लिए डीसी होने का अहसास करवाया.

डीसी ऑफिस में अनमोल को डिप्टी कमिश्नर की कुर्सी के साथ कुर्सी पर बैठी और प्रशासकीय कामकाज को बेहद करीब से देखा. इस बीच अनमोल ने कई फोन कॉल्स भी अटेंड किए, जो कि खास तौर पर विभिन्न अधिकारियों की तरफ से उन्हें बधाई देने के लिए आए थे. डिप्टी कमिश्नर ने शहर को लेकर जब अनमोल से उसकी प्राथमिताएं पूछी तो उसने कई मुद्दों के बारे में बताया.

अनमोल ने पांच सुझाव दिए और कहा कि वह चाहती हैं कि इन मसलों पर जल्द से जल्द काम होना चाहिए. डीसी ने अनमोल बेरी के सभी सुझाव संबंधित महकमों को तत्काल प्रभाव से लागू करने के निर्देश दिए. अनमोल ने बताया कि सबसे पहले शहर की सड़कों को लेकर काम होना चाहिए, जिस पर मौके पर मौजूद नगर काउंसिल के ईओ ने बताया कि टेंडर लग चुके हैं और 30 दिन से शहर की सड़कें हाई क्वालिटी की बनाई जाएंगी.

इसके बाद अनमोल ने शहर में प्लास्टिक बैन करने, साफ-सफाई को और बेहतर करने और बेसहारा पशुओं के मसले पर कदम उठाने के लिए कहा. डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि सरकार की तरफ से बेसहारा पशुओं के मसले पर 3 करोड़ रुपए की राशि भेजी गई है, जिसके तहत उपयुक्त जगह की तलाश करके एक बड़ी गौशाला बनाई जाएगी, जिससे इस समस्या का समाधान होगा. अनमोल ने शिक्षा के क्षेत्र में पंजाब सरकार की तरफ से किए गए कार्यों की खास तौर पर प्रशंसा की और कहा कि इस क्षेत्र में सबसे अच्छा काम चल रहा है. बच्ची ने पंजाब सरकार की तरफ से कई जनहित के मुद्दों पर किए जा रहे कार्यों को सराहा.

अनमोल की हौंसलाअफजाई के लिए विधायक परमिंदर सिंह पिंकी खास तौर पर डीसी ऑफिस पहुंचे. उन्होंने शारीरिक तौर पर कमजोर होने के बावजूद अनमोल के जज्बे, अपने सपने को साकार करने की लगन और पढ़ाई में उम्दा परफार्मेंस के लिए अनमोल को सम्मानित भी किया. विधायक पिंकी ने कहा कि बच्ची की मदद के लिए वह हरदम तैयार हैं. इसके बाद अनमोल विधायक परमिंदर सिंह पिंकी और डीसी चंद्र गैंद के साथ प्रेस क्लब पहुंची, जहां विधायक और डीसी के साथ अनमोल ने प्रेस क्लब को पांच लाख रुपए की ग्रांट का चेक सौंपा.

Sources:-Zee News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here