‘मेडल जीतने पर भारतीय, वरना चिंकी- नेपाली और कोरोना’- मिलिंद सोमन की पत्नी न कहा भारत को नस्लवाद से पीड़ित

कही-सुनी

मणिपुर की मीराबाई चानू के टोक्यो ओलंपिक 2020 में वेटलिफ्टिंग में सिल्वर जीतने पर मशहूर बॉलीवुड एक्टर और मॉडल मिलिंद सोमन की पत्नी अंकिता कोंवर ट्वीट करके चर्चा में हैं। जाहिर है की मीराबाई चानू के इस बार के ओलंपिक्स में भारत का पहला और अब तक का इकलौता मेडल जीतने का जश्न पूरे देश में मनाया जा रहा है। लेकिन मीराबाई चानू की इस उपलब्धि को लेकर अपने ट्वीट में अंकिता कोंवर ने मेडल का जिक्र हुए उत्तर-पूर्वी भारतीयों के साथ होने वाले नस्लवाद पर गुस्सा जाहिर किया है।

स्पोर्ट्स वुमन, एयर एशिया की एक्स सीनियर फ्लाइट अटेंडेंट अंकिता का असली नाम सुंकुस्मिता कंवर है। वे असम से हैं और दिल्ली में रहा करती थीं। 2013 में उन्होंने एयर एशिया में बतौर केबिन क्रू केबिन एग्जीक्यूटिव काम करना शुरू किया था। वे असमी के अलावा, हिंदी, अंग्रेजी , फ्रेंच के साथ-साथ बंगाली भी बोल सकती हैं। नवंबर 2015 में अंकिता ने मिलिंद के साथ पहली 10 हजारी मैराथन कंप्लीट की थी।

अंकिता कोंवर ने ट्वीट में भारत को नस्लवाद से पीड़ित बताया, साथ ही कहा कि मेडल जीते तो भारतीय, वरना चिंकी, नेपाली, चीनी और कोरोना। अंकिता कोंवर के इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर भी खूब कमेंट कर रहे हैं।

अंकिता लिखती हैं कि ‘अगर आप नार्थ ईस्ट से हैं तो आप तभी भारतीय हो सकते हैं जब आप देश के लिए मेडल जीतकर लाते हैं। नहीं तो आपको चिंकी, चाइनीज, नेपाली या अभी हाल ही में आया नया एडिशन कोरोना के नाम से पुकारा जाता है। भारत में सिर्फ जातिवाद ही नहीं है बल्कि नस्लवाद भी है। यह मैं अपने एक्सपीरियंस से बता रही हूं।

अंकिता कोंवर ने उत्तर-पूर्वी भारतीयों के साथ होने वाले नस्लवाद पर नाराजगी जाहिर करते हुए लिखा, “अगर आप उत्तर-पूर्वी भारत से हैं तो आप भारतीय तभी बन सकते हैं जब आप देश के लिए मेडल जीतें। वरना आप चिंकी, चीनी, नेपाली और एक नए शब्द कोरोना के नाम से जाने जाएंगे।”

अंकिता कोंवर ने ट्वीट में आगे लिखा, “भारत न केवल जातिवाद से पीड़ित है, बल्कि नस्लवाद से भी पीड़ित हैं। यह मैं अपने अनुभव के आधार पर बता रही हूं, पाखंडी लोग।” उनके इस ट्वीट का जवाब देते हुए विजय कुमार ने लिखा, “नॉर्थ-ईस्ट जाहिर तौर पर भारत का ही हिस्सा है और आप सभी भी भारतीय हैं। चाहे कोई इसे माने या ना माने, उन्हें अपने विचार मानने दें और हम अपना मानते हैं।”

रोली नाम की एक यूजर ने अंकिता कोंवर के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, “मैं असम में जन्मी हूं और पली-बढ़ी भी हूं। जब नॉर्थ-ईस्ट भारत सालों बाद मुख्य भूमि से जुड़ने की कोशिश कर रहा है तो ऐसे में आप यह नकारात्मक बयान न दें।” अभिषेक नाम के एक यूजर ने लिखा, “एक या दो घटनाएं पूरी तस्वीर को बयां नहीं कर सकती हैं।”

वहीं पीयूष नाम के एक यूजर ने उत्तर-पूर्वी भारत में होने वाले भेदभाव का जिक्र करते हुए लिखा, “मैं नॉर्थईस्ट में पैदा हुआ हूं और मैं यहां का रहने वाला नहीं हूं, लेकिन जिस भेदभाव का सामना हम यहां कर रहे हैं वह हम ही जानते हैं। नॉर्थ ईस्ट में अगर आप स्थानीय नहीं हैं तो आपके साथ जानवरों जैसा व्यवहार होता है। पहले यह देखो कि नॉर्थ ईस्ट के लोग दूसरों से कैसा व्यवहार करते हैं।”

अंकिता कोंवर और मिलिंद ने 22 अप्रैल 2018 को शादी की थी और उम्र के फासले की वजह से यह जोड़ी काफी चर्चा में आई थी। मिलिंद और अंकिता में 25 साल का अंतर है। मिलिंद जहां 55 साल के हैं, वहीं अंकिता 30 साल की हैं। इससे पहले मिलिंद ने जुलाई, 2006 में फ्रेंच एक्ट्रेस माइलिन जम्पोनई से शादी की थी लेकिन 2009 में दोनों का तलाक हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.