आनंद सर अब सुपर30 नहीं सुपर70 की लगाएंगे क्लास, जरूरत पड़ी तो सुपर 90 भी होगा शुरू

खबरें बिहार की

पटना: आनंद सर का सुपर 30 अब बदल जाएगा सुपर 70 में। जी हां ये गरीब बच्चों और उनके माता-पिता के लिए ये बड़ी खुशखबरी है कि वे अपने बच्चों को आनंद सर के यहां पढ़ा सकेंगे। हर साल 30 गरीब बच्चों को मुफ्त IIT की तैयारी कर इंजीनियर बनाने की फैक्ट्री बन चुने आनंद कुमार का कहना है कि जरूरत पड़ी तो इसे सुपर 90 भी बनाएंगे।

सुपर 30 यानि अब सुपर 70 में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा  हो गयी है। ये परीक्षा यूपी की राजधानी लखनऊ और बनारस में ली गयी है। इंट्रेस एक्जॉम में फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथेमैटिक्स से दस-दस सवाल पूछे गये थे। अब कॉपी की जांच एक्सपर्ट कर रहे हैं । इनमें से सेलेक्टेड बच्चे 2019 में आईआईटी एंट्रेंस की तैयारी आनंद सर की ‘आईआईटियन की फैक्ट्री’ में करेंगे।

बिहारी टैलेंट को आईआईटियन बनाने वाले आनंद कुमार को इस साल राष्ट्रीय कल्याण पुरस्कार से सम्मानित किया गया । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें यह सम्मान राष्ट्रपति भवन में प्रदान किया।
आज सुपर 30 की चर्चा देश ही विदेशों में भी खूब हो रही है। विदेशी पत्रकार आनंद कुमार के कॉन्सेप्ट की कवरेज कर विदेशों में दिखा रहे हैं।

आनंद कुमार की तर्ज पर ही ओडिशा के अजय बहादुर सिंह ने भुवनेश्वर में ‘जिंदगी’ की शुरूआत की है जो गरीब बच्चों को मेडिकल की तैयारी के लिए मुफ्त शिक्षा दे रही है। इतना ही आनंद कुमार की सफलता से बॉलीवुड भी अछूता नहीं है। डॉयरेक्टर विकास बहल आनंद कुमार की बायोपिक तैयार कर रहे हैं जिसमें बॉलीवुड सुपर स्टार रितिक रोशन उनकी भूमिका निभा रहे हैं।

गौरतलब है कि साल 2002 में सुपर 30 की नींव डाली थी। पहले साल में सुपर 30 के 30 बच्चों में से 18 छात्रों ने सफलता हासिल की थी। 2004 में 22 बच्चों ने तो 2005 में 26 बच्चे आईआईटी प्रवेश परीक्षा पास कर गए। इसके बाद 2008 से तो संस्थान से शत प्रतिशत सफलता हासिल करना शुरू कर दिया जो आजतक बरकरार है।

Source: Live bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.