चम्पारण की बहु आशा खेमका को इंग्लैंड में मिला ‘एशियन बिजनेस वूमेन ऑफ द ईयर’ अवार्ड

कही-सुनी

2014 में शिक्षा के क्षेत्र में उनके अतुलनीय योगदान के लिए ब्रिटेन के सर्वोच्च महिला नागरिक सम्मान “डेम” से सम्मानित होने के बाद आशा खेमका ने इस वर्ष फिर से दुनिया में बिहार का नाम रोशन किया है।

पूर्वी चंपारण में मोतिहारी की बहू आशा खेमका ने इतिहास रचते हुए इंग्लैंड में ‘एशियन बिजनेस वूमेन ऑफ द ईयर’ का अवार्ड अपने नाम किया है।

आशा खेमका 1978 में अपने पति और बच्चों के साथ इंग्लैंड जा कर बस गए थे। विदेश में रहने के बावजूद खेमका परिवार चंपारण की मिट्टी से जूड़ा हुआ है। आज भी श्रीमति खेमका का परिवार पूर्वी चंपारण के जिला मुख्यालय मोतिहारी के मिस्कॉट मोहल्ले में रहता है।

चंपारण की बहू को इंग्लैंड में सम्मानित किये जाने पर बिहार सरकार के पूर्व मंत्री व वरीय गांधीवादी ब्रजकिशोर सिंह, चंपारण संघर्ष मोर्चा के नेता राय सुंदरदेव शर्मा, कांग्रेस नेता विनय कुमार उपाध्याय एवं युवा गांधीवादी प्रीतम अग्रवाल ने हर्ष व्यक्त करते हुए श्रीमति खेमका को बधाई दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.